UTTRAKHAND NEWS

Big breaking :-20 दरोगाओं के निलंबन के बाद जल्द निकल सकती हैं निलंबन की अगली लिस्ट,100 से अधिक दरोगा रडार पर

विजिलेंस जांच के दायरे में 2015 बैच के 120 दारोगा नैनीताल में 38 व यूएस नगर में तैनात हैं 46
दारोगा भर्ती घोटाले का जिन्न जल्द बाहर आएगा। विजिलेंस की जांच शुरू . होते ही दारोगाओं में हड़कंप मचा है। कुमाऊं परिक्षेत्र में 2015 बैच के 120 दारोगा हैं। सभी को जांच के दायरे में शामिल किया गया है।

स्पेशल टास्क फोर्स (एसटीएफ) ने उत्तराखंड अधीनस्थ सेवा चयन आयोग (यूकेएसएसएससी) पेपर लीक मामले की जांच की थी। इसी दौरान एसटीएफ को उत्तराखंड में वर्ष 2015 में हुए दारोगा भर्ती में घोटाले की जानकारी मिली थी। एसटीएफ ने इस संबंध में पुलिस महानिदेशक (डीजीपी) अशोक कुमार को अवगत कराया था। शासन स्तर से दारोगा भर्ती घोटाले की जांच के आदेश हुए। विजिलेंस को इसका जिम्मा सौंपा गया है। विजिलेंस सूत्रों के अनुसार वर्ष 2015 में उत्तराखंड में 339 दारोगा भर्ती हुए।

 

कुमाऊं में 120 दारोगा
तैनात हैं। जिसमें 46 ऊधमसिंह नगर व 38 नैनीताल जिले में तैनात हैं। इसी तरह पिथौरागढ़ में 15 और अल्मोड़ा, चंपावत व बागेश्वर में सात-सात दारोगा सेवारत हैं। सभी दारोगाओं का मुख्यालय से रिकार्ड लेकर जांच शुरू कर दी गई है।
टापर दारोगा की जांच पहलेः दारोगा भर्ती में कई ऐसे लोग टापर हो गए, जिन्हें पुलिस की कार्यप्रणाली के बारे में पता नहीं है। कई दारोगाओं को शुद्ध हिंदी लिखने में भी दिक्कत होती है। विजिलेंस सूत्रों के अनुसार सबसे पहले टापरों की जांच की जा रही है। नैनीताल जिले में तैनात कुछ ऐसे दारोगाओं के नाम इसमें शामिल हैं।

लेटेस्ट न्यूज़ अपडेट पाने के लिए -

👉 न्यूज़ हाइट के समाचार ग्रुप (WhatsApp) से जुड़ें

👉 न्यूज़ हाइट से टेलीग्राम (Telegram) पर जुड़ें

👉 न्यूज़ हाइट के फेसबुक पेज़ को लाइक करें

👉 गूगल न्यूज़ ऐप पर फॉलो करें


अपने क्षेत्र की ख़बरें पाने के लिए हमारी इन वैबसाइट्स से भी जुड़ें -

👉 www.thetruefact.com

👉 www.thekhabarnamaindia.com

👉 www.gairsainlive.com

Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.

To Top