UTTRAKHAND NEWS

Big breaking :-राष्ट्रीय शोध विश्वविद्यालय रूस द्वारा डॉक्टर निशंक सम्मानित

राष्ट्रीय शोध विश्वविद्यालय रूस द्वारा डॉक्टर निशंक सम्मानित
एनईपी-2020 अंतरराष्ट्रीय स्तर पर भारतीय उच्च शिक्षा प्रणाली की बेहतर समझ विकसित करेगी
एनईपी-2020 अंतरराष्ट्रीय स्तर पर भारतीय उच्च शिक्षा प्रणाली की बेहतर समझ विकसित करेगी
भारत के यशस्वी प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी जी के नेतृत्व में भारत नित नए कीर्तिमान गढ़ रहा है। श्री नरेंद्र मोदी जी के दूरगामी सोच का परिणाम है कि भारत में नई राष्ट्रीय शिक्षा नीति 2020 लागू की गई है। जिसमें भारत की शिक्षा नीति में व्यापक सुधार किए गए हैं, जो न सिर्फ शिक्षा की गुणवत्ता को बढ़ावा देता है बल्कि भारतीय शिक्षा व्यवस्था को विश्व के पटल पर गौरव का अहसास कराता है।

 

 

माननीय प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी जी का सपना है कि भारत विश्व गुरु बने और शिक्षा के क्षेत्र में जो क्रांति हो उसका नेतृत्व भारत के हाथों में हो। इसी सोच के तहत प्रधानमंत्री जी के मार्गदर्शन में नई शिक्षा नीति 2020 को फलीभूत किया गया। जिसे भारत के उस समय के शिक्षा मंत्री श्री रमेश पोखरियाल निशंक जी के नेतृत्व में लागू गिया गया। यह शिक्षा नीति विश्व के पटल पर भारत को अलग पहचान दिलाएगा।
इस शिक्षा नीति का मकसद ही है कि शिक्षा कैसे सहज और सरल हो जिससे उसे ग्रहण करना किसी भी छात्र के लिए आनंददायक हो। साथ ही इसमें उन मूल्यों को ध्यान रखा गया है जिससे छात्रों का नैतिक जीवन उच्च हो सके।

 

 

सेंट पीटर्सबर्ग में राष्ट्रीय शोध विश्वविद्यालय परिसर की ओर से डॉ अन्ना टायशेत्सकाया ने  रमेश पोखरियाल निशंक जी की प्रशंसा करते हुए कहा कि इस सामयिक, सामरिक और वैश्विक प्रतिस्पर्धी नीति के लिए आपको बधाई देते हुए दुनिया के 100 से अधिक शीर्ष विश्वविद्यालयों की लीग ( के दल ) में शामिल होते हुए हमें अत्यंत खुशी हो रही है। हमारा मानना ​​है कि एनईपी-2020 अंतरराष्ट्रीय स्तर पर भारतीय उच्च शिक्षा प्रणाली की बेहतर समझ को विकसित करने में सक्षम करेगी ।
यह नीति निश्चित रूप से क्षमता विकास , गुणवत्ता परक , अनुसंधान, क्षमता निर्माण, सूचना साझाकरण की सुविधा प्रदान कर विश्व में भारतीय शिक्षा के परिपेक्ष्य को सफलरपूर्वक प्रस्तुत करेगी।
NEP-2020 गुणवत्ता, समानता आधारित, सस्ती, तकनीकी रूप से उन्नत शिक्षा प्रणाली पर केंद्रित है और नए भारत के निर्माण की आधारशिला रखेगा। यह नीति भारत में राजनीतिक, सामाजिक और आर्थिक ढांचे में सकारात्मक परिवर्तनकारी सुधार लाएगा।
यह गुणवत्तापूर्ण शिक्षा, उच्च स्तर के अनुसंधान को बढ़ावा देने और खुलेपन, समावेशिता और आपसी सम्मान के सिद्धांतों के आधार पर अकादमिक अनुभवों को बढ़ाने की ओर एक बेहतर कल की शुरुआत है।

 

 

एनईपी-2020 अंतरराष्ट्रीय स्तर पर भारतीय उच्च शिक्षा प्रणाली की बेहतर समझ को विकसित करने में सक्षम करेगी ।
यह नीति निश्चित रूप से क्षमता विकास , गुणवत्ता परक , अनुसंधान, क्षमता निर्माण, सूचना साझाकरण की सुविधा प्रदान कर विश्व में भारतीय शिक्षा के परिपेक्ष्य को सफलतापूर्वक प्रस्तुत करेगी।
एनईपी-2020 अंतरराष्ट्रीय स्तर पर भारतीय उच्च शिक्षा प्रणाली की बेहतर समझ विकसित करेगी
भारत के यशस्वी प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी जी के नेतृत्व में भारत नित नए कीर्तिमान गढ़ रहा है। श्री नरेंद्र मोदी जी के दूरगामी सोच का परिणाम है कि भारत में नई राष्ट्रीय शिक्षा नीति 2020 लागू की गई है। जिसमें भारत की शिक्षा नीति में व्यापक सुधार किए गए हैं, जो न सिर्फ शिक्षा की गुणवत्ता को बढ़ावा देता है बल्कि भारतीय शिक्षा व्यवस्था को विश्व के पटल पर गौरव का अहसास कराता है।
माननीय प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी जी का सपना है कि भारत विश्व गुरु बने और शिक्षा के क्षेत्र में जो क्रांति हो उसका नेतृत्व भारत के हाथों में हो। इसी सोच के तहत प्रधानमंत्री जी के मार्गदर्शन में नई शिक्षा नीति 2020 को फलीभूत किया गया। जिसे भारत के उस समय के शिक्षा मंत्री श्री रमेश पोखरियाल निशंक जी के नेतृत्व में लागू गिया गया। यह शिक्षा नीति विश्व के पटल पर भारत को अलग पहचान दिलाएगा।

 

इस शिक्षा नीति का मकसद ही है कि शिक्षा कैसे सहज और सरल हो जिससे उसे ग्रहण करना किसी भी छात्र के लिए आनंददायक हो। साथ ही इसमें उन मूल्यों को ध्यान रखा गया है जिससे छात्रों का नैतिक जीवन उच्च हो सके।
सेंट पीटर्सबर्ग में राष्ट्रीय शोध विश्वविद्यालय परिसर की ओर से डॉ अन्ना टायशेत्सकाया ने श्री रमेश पोखरियाल निशंक जी की प्रशंसा करते हुए कहा कि इस सामयिक, सामरिक और वैश्विक प्रतिस्पर्धी नीति के लिए आपको बधाई देते हुए दुनिया के 100 से अधिक शीर्ष विश्वविद्यालयों की लीग ( के दल ) में शामिल होते हुए हमें अत्यंत खुशी हो रही है। हमारा मानना ​​है कि एनईपी-2020 अंतरराष्ट्रीय स्तर पर भारतीय उच्च शिक्षा प्रणाली की बेहतर समझ को विकसित करने में सक्षम करेगी ।
यह नीति निश्चित रूप से क्षमता विकास , गुणवत्ता परक , अनुसंधान, क्षमता निर्माण, सूचना साझाकरण की सुविधा प्रदान कर विश्व में भारतीय शिक्षा के परिपेक्ष्य को सफलरपूर्वक प्रस्तुत करेगी।
NEP-2020 गुणवत्ता, समानता आधारित, सस्ती, तकनीकी रूप से उन्नत शिक्षा प्रणाली पर केंद्रित है और नए भारत के निर्माण की आधारशिला रखेगा। यह नीति भारत में राजनीतिक, सामाजिक और आर्थिक ढांचे में सकारात्मक परिवर्तनकारी सुधार लाएगा।

 

यह गुणवत्तापूर्ण शिक्षा, उच्च स्तर के अनुसंधान को बढ़ावा देने और खुलेपन, समावेशिता और आपसी सम्मान के सिद्धांतों के आधार पर अकादमिक अनुभवों को बढ़ाने की ओर एक बेहतर कल की शुरुआत है।
एनईपी-2020 अंतरराष्ट्रीय स्तर पर भारतीय उच्च शिक्षा प्रणाली की बेहतर समझ को विकसित करने में सक्षम करेगी ।
यह नीति निश्चित रूप से क्षमता विकास , गुणवत्ता परक , अनुसंधान, क्षमता निर्माण, सूचना साझाकरण की सुविधा प्रदान कर विश्व में भारतीय शिक्षा के परिपेक्ष्य को सफलतापूर्वक प्रस्तुत करेगी।

डॉक्टर निशंक को नवाचारयुक्र, समावेशी एवम गुणवत्तापरक एन॰ई॰पी॰ 2020 के लिए राष्ट्रीय शोध विश्वविद्यालय पीटर्स्बर्ग द्वारा सम्मानित किया गया

लेटेस्ट न्यूज़ अपडेट पाने के लिए -

👉 न्यूज़ हाइट के समाचार ग्रुप (WhatsApp) से जुड़ें

👉 न्यूज़ हाइट से टेलीग्राम (Telegram) पर जुड़ें

👉 न्यूज़ हाइट के फेसबुक पेज़ को लाइक करें

👉 गूगल न्यूज़ ऐप पर फॉलो करें


अपने क्षेत्र की ख़बरें पाने के लिए हमारी इन वैबसाइट्स से भी जुड़ें -

👉 www.thetruefact.com

👉 www.thekhabarnamaindia.com

👉 www.gairsainlive.com

Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.

To Top