DEHRADUN NEWS

Big news :-देहरादून में स्मार्ट सिटी काम पर उठ रहे सवाल ,स्मार्ट सिटी कार्य से बढ़ती जनसमस्याओं को लेकर कांग्रेस ने किया स्मार्ट सिटी कार्यालय का घेराव

 

देहरादून में चल रहे स्मार्ट सिटी कार्य में अनियमितता के कारण जनता को हो रही परेशानियों के निदान के लिए आज अनुसूचित जाति विभाग के प्रदेश अध्यक्ष एवं पूर्व विधायक राजकुमार के नेतृत्व में कांग्रेस के एक प्रतिनिधिमंडल ने स्मार्ट सिटी कार्यालय का किया घेराव

इस दौरान पूर्व विधायक राजकुमार ने कहा कि प्रारंभ से ही स्मार्ट सिटी के कार्य में अनियमतता के कारण जनता को समस्याओ का सामना करना पड़ा है । स्मार्ट सिटी योजना के अन्तर्गत 728 करोड़ रूपए की परियोजना जारी की गई थी जिसमें से अभी तक मात्र लगभग 268 करोड़ ही स्मार्ट सिटी कार्य में खर्च किए गए हैं परन्तु यह भी व्यर्थ नजर आ रहा है । स्मार्ट सिटी का कार्य जल संस्थान, जल निगम, नगर निगम, पीडब्लूडी, एमडीडीए के साथ तालमेल बिठा कर नहीं किया गया जिस कारण जनता को भारी परेशानियों का सामना करना पड़ रहा है ।

पूर्व विधायक राजकुमार ने कहा कि कई क्षेत्रों में खुदाई के कारण सीवर लाइनें व पानी की लाइनें टूटी पड़ी हैं जो जनता के लिए परेशानी खड़ी कर रही है और कई क्षेत्रों में पहले से ही पानी की लाइनें डली हुई हैं लेकिन वहां फिर से नई लाइने डाली जा रही है जो की जनता के पैसों की बर्बादी है तथा खुदाई क्षेत्रों को बिना ठीक किए ऐसे ही रख दिया गया है जो कि जनता की परेशानियों को और बढ़ा रहा है ।

यह भी पढ़ें👉  Big breaking:-यहाँ सड़क दुर्घटना में घर में का इकलौता दीपक बुझ गया , दोस्त भी गंभीर घायल , यहाँ हुआ हादसा

सीवर व पानी की लाईने टूटने के कारण इसे ठीक ठंग से रिपर्यर नहीं किया गया जिससे सीवर व पानी की लाईनें मिल जाने के कारण लागों के घरों में गन्दा पानी जा रहा है और लोगों को बिमारी से जुझना पड़ रहा है तथा खुदाई में लाईनें टूटने के कारण कई स्थानों में पानी नहीं आ रहा है इसे शीघ्र ठीक किया जाए । पूर्व विधायक राजकुमार ने कहा कि बलबीर रोड, करनपुर की नालियां , गुरूद्वारा रोड व शहर के कई स्थानों तथा आंतरिक गलियां खुदी हुई हैं और वह जगह-जगह से धस गयी है और खुदाई में पाइप लाइनें टूटी हुई हैं और आम जनता को चलने में भी बहुत परेशानियों का सामना करना पड़ रहा है तथा यह दुर्घटना ग्रस्त क्षेत्र बन चुका है, जिसके जांच के आदेश भी दिए गए हैं, इसे जल्द ठीक किया जाए l पूर्व विधायक राजकुमार ने कहा कि डिस्पेंसरी रोड पर डिवाइडर बनाया जा रहा है जिससे जाम की स्थिति पैदा हो रही है और आए दिन दुर्घटनाएं हो रही है तथा डिस्पेंसरी रोड स्थित पुरानी तहसील में सार्वजनिक शौचालय है जो कि सरकारी विभाग उरेड़ा से 2002 से 2032 तक अनुबन्ध हो रखा है उसी स्थान पर स्मार्ट सिटी प्रोजेक्ट द्वारा एक नवीन शौचालय बनाया जा रहा है जो कि जनता के पैंसों की बर्बादी है तथा उस निर्माण स्थल पर बाॅयो गैस व शिवर टैंक है जो कि इस निर्माण कार्य से क्षतिग्रस्त होने की सम्भावना में है तथा तहसील के निकट राजीवगांधी काम्पलेक्स में 3 शौचालय बने हुए हैं और इस नवीन शौचालय की कोई आवश्यकता नहीं है इन्हें आवश्यकता अनुसार बनाया जाए । और उन्होंने ने कहा कि कई जगह जहां पर सड़कों के किनारे फुटपाथ के साथ पैदल चलने के लिए बनाया गया था जिनकी टाइले बिल्कुल ठीक-ठाक थी उनपे नई टाइले लगाने का कार्य चल रहा है जिसकी कोई आवश्यकता नहीं थी , यह जनता के पैसों की बर्बादी है । पूर्व में भी कई बार इन समस्याओं को लेकर अधिकारियों को पत्र लिखे गए हैं पर अभी तक इन समस्याओं का कोई समाधान नहीं निकाला गया है l पूर्व विधायक राजकुमार ने कहा कि शीघ्र उक्त समस्याओं का समाधान करें अन्यथा हमें जनहित में जनता के साथ धरना प्रदर्शन करना पड़ेगा । इस अवसर पर महानगर अध्यक्ष लाल चंद शर्मा, सोमप्रकाश वाल्मीकि,डॉ बिजेंद्र पाल, कोमल बोहरा , संगीता गुप्ता , मीना रावत, अर्जुन सोनकर, मुकेश सोनकर, अशोक कोहली, उदयवीर मल, राजेश चौधरी, निखिल कुमार, इमराना परवीन, रीता रानी , अमृता कौशल , देवेंद्र कौर , अमीचंद सोनकर, सुनील बांग, नीरज नेगी, राहुल पाँवार रॉबिन , प्रियांश छाबड़ा , विकास नेगी, देवेंद्र सिंह , हरी किशोर, दिनेश नेगी, राहुल शर्मा, मलकीत सिंह, उद्यवीर, योगेश भटनागर, राम कपूर, शेखर कपूर, संजीव टॉक, रविंद्र सिंह घई, प्रवीण अरोड़ा, अजीत सिंह, संसार रावत, प्रवीण बांगा, आशु रातूडी, राजा गुलशन सिंह, रवि फूकेला , अनिल बसनीत , अशोक कुमार, हेमराज, राजेश, राहुल वाल्मीकि, नवीन वाल्मीकि, जोगेंद्र, विक्की, संजय सिंह, राजीव थापा , हरेंद्र चौधरी , विजेंदर सिंह , राजू भौगना, दीपक थापा , मोंटी सिंह, माखन सिंह विशाल सिंह, हरेंद्र सिंह बेदी, शिवम् ,, सूरज छेत्री, मनमीत सिंह मोंटी, गौतम सोनकर शाहीन कुरेशि, आदि मौजूद रहे l

यह भी पढ़ें👉  Big breaking:-गोविषाण टीले के रहस्य को जानने के लिए महाराज ने केंद्रीय पर्यटन राज्य मंत्री को पत्र भेजा
Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

To Top