Delhi news

Big breaking:-नए साल तक केंद्रीय कर्मचारियों की सैलरी में हो गई इतनी बढ़ोतरी , आप भी कीजिए कैलकुलेट आखिर कितना हुआ फायदा

7th Pay Commission latest news: साल 2021 खत्म होने को है. ये साल केंद्रीय कर्मचारियों के लिए बढ़िया रहा. उन्हें दूसरी छमाही में बंपर तोहफे मिले. दो बार महंगाई भत्ते (DA) में इजाफा हुआ. वहीं, DA बढ़ने के बाद HRA जैसे अलाउंस से भी सैलरी में मोटा उछाल आया.केंद्रीय कर्मचारियों (Central government employees) को फिलहाल 31 फीसदी महंगाई भत्ता (Dearness allowance) मिल रहा है. महंगाई भत्ता (DA Hike) बढ़ने के बाद इस साल HRA-House Rent Allowance में भी इजाफा हुआ था.

 

 

 

 

सैलरी में हुआ 20,160 रुपए का इजाफा

महंगाई भत्ता 25 फीसदी क्रॉस होते ही HRA भी रिवाइज हो गया था. सरकार ने जुलाई में महंगाई भत्ता (Dearness Allowance) बढ़ाया था, उसके बाद हाउस रेंट अलाउंस (House Rent Allowance) में रिविजन आया. इससे कर्मचारियों की सैलरी में 20,160 रुपए तक का बढ़ा इजाफा देखने को मिला.

यह भी पढ़ें👉  Big breaking:-कांग्रेस प्रत्याशियों का ऐलान होने से पहले देहरादून की राजपुर सीट से टिकट के प्रबल दावेदार पूर्व विधायक राजकुमार के जाति प्रमाणपत्र पर विवाद, हाईकोर्ट ने मांगा जवाब

 

 

 

HRA में हुआ बंपर इजाफा

DoPT के मुताबिक, केंद्रीय कर्मचारियों (Kendriye Karmachariyon) के लिए हाउस रेंट अलाउंस (HRA) में रिविजन महंगाई भत्ते के आधार पर हुआ है. सभी कर्मचारियों को बढ़े हुए HRA का फायदा मिल रहा है. शहर की कैटेगरी के हिसाब से HRA 27 फीसदी, 18 फीसदी और 9 फीसदी हो गया है. यह बढ़ोतरी भी DA के साथ 1 जुलाई 2021 से लागू है.

 

 

कितना है House Rent Allowance?

हाउस रेंट अलाउंस (HRA) की कैटेगरी X, Y और Z क्लास शहरों के हिसाब से है. जो केंद्रीय कर्मचारी X कैटेगरी में आते हैं उन्हें अब 5400 रुपए महीने से ज्‍यादा HRA मिल रहा है. इसके बाद Y Class वाले को 3600 रुपए महीना और फिर Z Class वाले को 1800 रुपए महीना.

यह भी पढ़ें👉  Big breaking:-उत्तराखंड के आबकारी अधिकारी पर लगे गंभीर आरोप , गुरुग्राम पुलिस ने जीरो एफआईआर दर्ज कर मामला डालनवाला ट्रांसफर किया

 

 

 

कैसे कैलकुलेट होता है HRA?

7th Pay Matrix के हिसाब से केंद्रीय कर्मचारियों की अधिकतम बेसिक सैलरी 56,000 रुपए महीना है तो उसका HRA 27 फीसदी के हिसाब से कितना बनेगा, यह साधारण कैलकुलेशन से समझा जा सकता है.
HRA = 56,000 रुपए x 27/100= 15,120 रुपए महीना
पहले HRA = 56,000 रुपए x 24/100= 13,440 रुपए महीना
अधिकतम सैलरी ब्रैकेट में कर्मचारियों के महीने में 1,630 रुपए बढ़े हैं. ऐसे में सालाना आधार पर उनकी सैलरी में 20,160 रुपए का इजाफा हुआ है.

 

 

 

जुलाई से पहले कितना मिलता था HRA

7th Pay Commission लागू होने के बाद HRA को पहले ही दरों 30, 20 और 10 फीसदी से घटाकर 24, 18 और 9 फीसदी कर दिया गया था. साथ ही इसमें शहरों के लिहाज से 3 कैटेगरी बनाई थी X, Y और Z. उस दौरान DA को शून्य कर दिया गया था. उस वक्त ही DoPT के नोटिफिकेशन में इस बात का जिक्र था कि जब DA 25 फीसदी के मार्क को क्रॉस कर जाएगा तो HRA भी खुद रिवाइज हो जाएगा.

यह भी पढ़ें👉  Big breaking:-आज 4759 मामले आए सामने कोरोना के , 7 मरीजों की हुई मौत

 

 

 

HRA में X,Y और Z कैटेगरी क्‍या है?

X कैटेगरी में 50 लाख से ज्यादा आबादी वाले शहर आते हैं. इन शहरों में जो केंद्रीय कर्मचारी तैनात हैं उन्‍हें 27 फीसदी HRA मिलेगा. वहीं, Y कैटेगरी के शहरों में 18 फीसदी होगा और Z कैटेगरी में 9 फीसदी होगा.

लेटेस्ट न्यूज़ अपडेट पाने के लिए -

👉 न्यूज़ हाइट के समाचार ग्रुप (WhatsApp) से जुड़ें

👉 न्यूज़ हाइट से टेलीग्राम (Telegram) पर जुड़ें

👉 न्यूज़ हाइट के फेसबुक पेज़ को लाइक करें


अपने क्षेत्र की ख़बरें पाने के लिए हमारी इन वैबसाइट्स से भी जुड़ें -

👉 www.thetruefact.com

👉 www.thekhabarnamaindia.com

👉 www.gairsainlive.com

Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

To Top