Delhi news

Big breaking:-भारत मे Omicorn को लेकर ये खबर पहुँचा रही राहत , आप भी पढ़िए

दिल्ली में ओमिक्रॉन वैरिएंट से संक्रमित मरीज़ों की संख्या में लगातार इज़ाफ़ा हो रहा है. देश की राजधानी में मिले ओमिक्रॉन मरीज़ों का इलाज सेंट्रल दिल्ली के लोक नायक जय प्रकाश अस्पताल में डॉक्टर्स की टीम कर रही है. अस्पताल के मेडिकल डायरेक्टर डॉ. सुरेश कुमार से पूछा गया कि ओमिक्रॉन संक्रमित मरीजों में किस तरह के लक्षण पाए जा रहे हैं और ऐसे मरीजों को कैसा इलाज दिया जा रहा है.

 

 

 

20 में से 18 ओमिक्रॉन मरीजों में एक भी लक्षण नहीं
LNJP अस्पताल के डायरेक्टर सुरेश कुमार ने बताया कि अबतक साउथ अफ्रीका या यूरोप से WHO का जो डेटा आया है उसके मुताबिक ओमिक्रॉन के मरीज हल्के लक्षण वाले होते हैं. LNJP अस्पताल में अब तक भर्ती हुए 20 मरीजों में से 18 मरीजों में बिल्कुल भी लक्षण नहीं थे जबकि 2 मरीजों में लक्षण पाए गए हैं. इन 18 ओमिक्रॉन मरीजों को न बुखार था, न सांस लेने में दिक्कत थी और न कोई अन्य लक्षण पाया गया है.

 

 

 

ओमिक्रॉन से संक्रमित हुए 10 मरीज अस्पताल से डिस्चार्ज
ओमिक्रॉन मरीजों का इलाज कर रही डॉक्टर्स की टीम की रिपोर्ट के आधार पर डॉ सुरेश कुमार ने बताया कि ओमिक्रॉन के 2 मरीजों में मामूली लक्षण पाए गए हैं. इनमें से एक ओमिक्रॉन मरीज को बुखार, गले मे दर्द और कमजोरी थी, जबकि इस मरीज़ का ब्लड प्रेशर और ऑक्सीजन लेवल सामान्य था. दूसरे ओमिक्रॉन मरीज को दस्त की परेशानी थी और हल्का बुखार हुआ था. दोनों ही ओमिक्रॉन मरीजों का कोरोना प्रोटोकॉल के तहत ही इलाज किया गया और ये मरीज़ 3 दिन में ठीक भी हो गए थे, अब इन्हें डिस्चार्ज भी कर दिया गया है. अब तक ओमिक्रॉन से संक्रमित हुए 10 मरीज LNJP अस्पताल से डिस्चार्ज किए जा चुके हैं. इन ओमिक्रॉन मरीजों के ब्लड टेस्ट के अलावा एक्स- रे किया गया लेकिन रिपोर्ट्स सामान्य ही पाई गईं.
ज्यादातर मरीजों को अस्पताल में भर्ती होने की जरूरत नहीं’

यह भी पढ़ें👉  Big breaking:-शिक्षा विभाग से बड़ी खबर , कल से खुलेंगे स्कूल , आगे छुट्टी जारी रखने का आदेश आने की उम्मीद नहीं

 

 

 

आगे LNJP अस्पताल के डायरेक्टर सुरेश कुमार ने कहा कि ओमिक्रॉन मरीजों के इलाज से ये तथ्य सामने आया है कि ज्यादातर मरीजों को अस्पताल में भर्ती करने की आवश्यकता नहीं होगी. क्योंकि ओमिक्रॉन मरीजों में वैसी समस्या नहीं देखने मिल रही है जैसी कोरोना की दूसरी लहर में डेल्टा वेरिएंट की वजह से देखने को मिली थी. ओमिक्रॉन मरीजों में सांस लेने की, कफ की, तेज बुखार की समस्या नहीं है

यह भी पढ़ें👉  Big breaking:-बीजेपी प्रदेश प्रभारी बोले जल्द होगी पहली लिस्ट जारी ,कहा कई कांग्रेसी हमारे संपर्क में , सीएम ने कही ये बड़ी बात

 

 

एक भी मरीज को नहीं पर ऑक्सीजन या ICU की जरूरत’

उन्होंने कहा कि- देश भर में कोरोना की दूसरी लहर का आतंक डेल्टा वेरिएंट था, और अस्पताल से लेकर मरीजों के परिजन ऑक्सीजन के लिए दर- दर भटकते नजर आए थे. लेकिन ओमिक्रॉन वेरिएंट से खतरे के सवाल पर जब जवाब मिला तो राहत नज़र आ रही है. डॉ सुरेश कुमार ने बताया कि LNJP अस्पताल में भर्ती हुए सभी 20 ओमिक्रॉन मरीजों में से एक भी मरीज को ऑक्सीजन, ICU या लाइफ सपोर्ट की जरूरत महसूस नहीं हुई हैस जबकि इससे पहले मरीजों को ICU की ज़रूरत महसूस होती थी.

 

 

 

‘वैक्सीन की दोनों डोज ली तो कम रहेगा खतरा’
इसके अलावा ओमिक्रॉन मरीजों के वैक्सीनेशन स्टेटस के बारे में बताते हुए डॉ सुरेश कुमार ने कहा कि 20 ओमिक्रॉन मरीजों में से 18 मरीजों ने वैक्सीन के दोनों डोज लगवाए हैं जबकि 2 मरीजों ने वैक्सीन का एक डोज ही लगवाया है. डायरेक्टर ने कहा कि अगर वैक्सीन की दोनों डोज लगवाई है तो मरीज को गंभीर समस्याएं नहीं होंगी, न ICU में जाना पड़ेगा, ऑक्सीजन लेवल सामान्य रहेगा और ओमिक्रॉन हुआ भी तो जल्द ही ठीक हो जाएंगे.

यह भी पढ़ें👉  Big breaking:-उत्तरकाशी जिले के मोरी ब्लाक के सौड़ गाँव में घर मे लगी आग , मकान जलकर खाक

 

 

 

ओमिक्रॉन मरीजों के लिए डेडिकेटेड LNJP
आपको बता दें कि दिल्ली का LNJP अस्पताल, सरकार द्वारा ओमिक्रॉन मरीजों के इलाज के लिए डेडिकेटेड अस्पताल है. LNJP अस्पताल में अब तक 20 ओमिक्रॉन पॉजिटिव मरीज भर्ती हुए हैं, और इनमें से 1 ओमिक्रॉन मरीज डिस्चार्ज भी हो चुका हैं. शुक्रवार को विदेश से दिल्ली आए 13 कोरोना पॉजिटिव मरीजों को भर्ती किया गया है. इन मरीजों के सैम्पल जिनोम सिक्वेंसिंग के लिए भेजे गए हैं. LNJP अस्पताल में  कुल 41 यात्री भर्ती हैं, इनमें से 10 ओमिक्रॉन पॉजिटिव हैं और बाकी सभी कोरोना पॉजिटिव हैं.

लेटेस्ट न्यूज़ अपडेट पाने के लिए -

👉 न्यूज़ हाइट के समाचार ग्रुप (WhatsApp) से जुड़ें

👉 न्यूज़ हाइट से टेलीग्राम (Telegram) पर जुड़ें

👉 न्यूज़ हाइट के फेसबुक पेज़ को लाइक करें


अपने क्षेत्र की ख़बरें पाने के लिए हमारी इन वैबसाइट्स से भी जुड़ें -

👉 www.thetruefact.com

👉 www.thekhabarnamaindia.com

👉 www.gairsainlive.com

Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

To Top