UTTRAKHAND NEWS

Big breaking :-कौन बनेगा नेता प्रतिपक्ष इस तारीख को होगा खुलासा

भाजपा के सीएम के बाद अब कांग्रेस का नेता प्रतिपक्ष कौन होगा? कांग्रेस में नेता प्रतिपक्ष को लेकर अटकलें भी तेज हो गई हैं। के चयन की प्रक्रिया भी जल्द होने जा रही है। राष्ट्रीय महासचिव अविनाश पांडे ने अपनी रिपोर्ट हाईकमान को सौंप दी है। हाईकमान ने उन्हें उत्तराखंड विधानसभा चुनाव के नतीजों की समीक्षा के लिए पर्यवेक्षक के रूप में भेजा था।

 

 

 

संपर्क करने पर पांडे ने शीर्ष नेतृत्व को रिपोर्ट देने की पुष्टि की। उन्होंने कहा कि नेता प्रतिपक्ष कौन होगा इसपर हाईकमान ही फैसला लेगा। साथ ही उत्तराखंड प्रदेश अध्यक्ष पर शीर्ष नेतृत्व ने अंतिम निर्णय लेना है। उम्मीद है जल्द तस्वीर साफ हो जाएगी। नेता प्रतिपक्ष के चयन को लेकर कांग्रेस के सामने संवैधानिक बाध्यता है। 28 मार्च से वर्तमान विधानसभा का पहला सत्र प्रस्तावित है।

 

यह भी पढ़ें👉  Big breaking :-यहाँ दो अधिकारियो पर हो गई बड़ी कार्यवाई, DM ने कर दिया सस्पेंड, जानिए क्या है मामला

 

 

सदन में विपक्ष की ओर से सरकार के सामने खड़ा होने के लिए नेता प्रतिपक्ष का होना जरूरी है। इस वक्त निवर्तमान नेता प्रतिपक्ष प्रीतम सिंह का नाम सबसे आगे हैं। लेकिन, इस बार धारचूला विधायक हरीश धामी खुलकर अपनी दावेदारी पेश कर चुके हैं। उनके साथ ही पूर्व काबीना मंत्री यशपाल आर्य, बदरीनाथ विधायक राजेंद्र भंडारी, मदन बिष्ट का नाम भी चर्चा में है।

 

 

यह भी पढ़ें👉  Big breaking :-जिन्होंने कोरोना में बचाई लोगो की जान , आज अपना हक पाने के लिए खून से लिखनी पड़ रही चिट्ठी, सुध लो सरकार

 

सूत्रों के अनुसार शीर्ष नेतृत्व इनमें ऐसे सर्वमान्य चेहरे को तलाश रहा है जिनके झंडे के नीचे सभी 19 विधायक सहजता से रह सके। दूसरी तरफ, पिछले नौ दिन से उत्तराखंड कांग्रेस बिना मुखिया के ही चल रही है। 15 मार्च को पूर्व प्रदेश अध्यक्ष गणेश गोदियाल ने इस्तीफा दे दिया था।

उनके साथ ही कार्यकारिणी भी निष्प्रभावी हो गई है। नौ दिन से कांग्रेस में असमंजस की स्थिति है। प्रदेश अध्यक्ष के लिए खटीमा विधायक भुवन कापड़ी, यशपाल •आर्य, मनोज तिवारी के नाम की चर्चा भी की जा रही है। कुमाऊं के ब्राह्मण नेताओं में फिलहाल भुवन का नाम आगे हैं।

यह भी पढ़ें👉  Big breaking :-बीजेपी विधायक किशोर के भाई सचिन की पत्नी कोच्चि मे अरेस्ट

हालांकि कांग्रेस का एक बड़ा वर्ग निवर्तमान प्रदेश अध्यक्ष गणेश गोदियाल को ही दोबारा अध्यक्ष बनाए जाने के पक्ष में है। इसके पीछे गोदियाल के अल्प कार्यकाल और इस चुनाव में वर्ष 2017 के मुकाबले बेहतर प्रदर्शन को वजह बताया जा रहा है। विधानसभा चुनाव 2022 में श्रीनगर विधानसभा सीट से भाजपा के डॉ. धन सिंह रावत ने गोदियाल को हराया है।

 

 

 

नेता प्रतिपक्ष और प्रदेश अध्यक्ष का विषय हाईकमान के विचाराधीन है। मैंने अपनी पूरी रिपोर्ट राष्ट्रीय अध्यक्ष को दे दी है। उम्मीद है जल्द ही तस्वीर साफ हो जाएगी। अविनाश पांडे, राष्ट्रीय महासचिव

लेटेस्ट न्यूज़ अपडेट पाने के लिए -

👉 न्यूज़ हाइट के समाचार ग्रुप (WhatsApp) से जुड़ें

👉 न्यूज़ हाइट से टेलीग्राम (Telegram) पर जुड़ें

👉 न्यूज़ हाइट के फेसबुक पेज़ को लाइक करें

👉 गूगल न्यूज़ ऐप पर फॉलो करें


अपने क्षेत्र की ख़बरें पाने के लिए हमारी इन वैबसाइट्स से भी जुड़ें -

👉 www.thetruefact.com

👉 www.thekhabarnamaindia.com

👉 www.gairsainlive.com

Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.

To Top