उत्तराखंड

Big breaking :-क्या सदन के अंदर एकजुट दिखेंगे कांग्रेस के विधायक, विधानमंडल दल में हुई ये बात

कांग्रेस प्रदेश के ज्वलंत मुद्दों पर सरकार को सदन में पुरज़ोर तरीक़े से उठाएगी।
बजट सत्र गैरसैंण के बजाय देहरादून, बेरोजगारी, महंगाई, भू कानून, लोकपाल, भ्रष्टाचार, पेयजल,बिजली, स्वास्थ ,पुरानी पेन्शन बहाली ,चारधाम यात्रा, आपदा प्रबंधन जैसे मुद्दों पर विपक्ष सरकार को घेरने के लिए सदन में उतरेगा।
नेता प्रतिपक्ष यशपाल आर्य का कहना है कि सकारात्मक राजनीति के साथ जनमुद्दों की पैरवी करना विपक्ष का दायित्व है।

 

 

कांग्रेस राज्य में बढ़ती बेरोजगारी और महंगाई, लगातार बढ़ रही दुर्घटनाओं के कारण जन-धन की हानि, भ्रष्टाचार को लगातार मिल रहे पोषण और चारधाम यात्रा व्यवस्था में सरकार की नाकामी जैसे ज्वलंत मुद्दों के प्रति सरकार का ध्यान आकर्षित कर समाधान की पैरवी करेगी।सरकार यदि विपक्ष के प्रति सकारात्मक दृष्टिकोण के साथ सदन चलाना चाहेगी तो उसे पूरा सहयोग मिलेगा।लेकिन विपक्ष के माध्यम से सदन में जनता की आवाज को दबाने की कोशिश होगी तो इसे अच्छी परंपरा नहीं कहा जाएगा।नेता प्रतिपक्ष आर्य ने कहा कि कांग्रेस हंगामे की नहीं मुद्दों की राजनीति पर विश्वास करती।प्रचंड बहुमत के बल पर विपक्ष को अनसुना करने की कोशिश हुई तो सड़क से सदन तक लोकतांत्रिक तरीके से विरोध भी किया जाएगा।

 

यह भी पढ़ें👉  Big breaking :-शिक्षा विभाग ने ये आदेश किए जारी, जानिए क्या हैं मामला

 

कांग्रेस प्रदेश के ज्वलंत मुद्दों पर सरकार को सदन में पुरज़ोर तरीक़े से उठाएगी।
बजट सत्र गैरसैंण के बजाय देहरादून, बेरोजगारी, महंगाई, भू कानून, लोकपाल, भ्रष्टाचार, पेयजल,बिजली, स्वास्थ ,पुरानी पेन्शन बहाली ,चारधाम यात्रा, आपदा प्रबंधन जैसे मुद्दों पर विपक्ष सरकार को घेरने के लिए सदन में उतरेगा।
नेता प्रतिपक्ष यशपाल आर्य का कहना है कि सकारात्मक राजनीति के साथ जनमुद्दों की पैरवी करना विपक्ष का दायित्व है।कांग्रेस राज्य में बढ़ती बेरोजगारी और महंगाई, लगातार बढ़ रही दुर्घटनाओं के कारण जन-धन की हानि, भ्रष्टाचार को लगातार मिल रहे पोषण और चारधाम यात्रा व्यवस्था में सरकार की नाकामी जैसे ज्वलंत मुद्दों के प्रति सरकार का ध्यान आकर्षित कर समाधान की पैरवी करेगी।

यह भी पढ़ें👉  Big breaking :-सीएम धामी ने लिया बड़ा फैसला, कैबिनेट के मंत्रियो को दिए बड़े निर्देश

 

 

 

सरकार यदि विपक्ष के प्रति सकारात्मक दृष्टिकोण के साथ सदन चलाना चाहेगी तो उसे पूरा सहयोग मिलेगा।लेकिन विपक्ष के माध्यम से सदन में जनता की आवाज को दबाने की कोशिश होगी तो इसे अच्छी परंपरा नहीं कहा जाएगा।नेता प्रतिपक्ष आर्य ने कहा कि कांग्रेस हंगामे की नहीं मुद्दों की राजनीति पर विश्वास करती।प्रचंड बहुमत के बल पर विपक्ष को अनसुना करने की कोशिश हुई तो सड़क से सदन तक लोकतांत्रिक तरीके से विरोध भी किया जाएगा।

लेटेस्ट न्यूज़ अपडेट पाने के लिए -

👉 न्यूज़ हाइट के समाचार ग्रुप (WhatsApp) से जुड़ें

👉 न्यूज़ हाइट से टेलीग्राम (Telegram) पर जुड़ें

👉 न्यूज़ हाइट के फेसबुक पेज़ को लाइक करें

👉 गूगल न्यूज़ ऐप पर फॉलो करें


अपने क्षेत्र की ख़बरें पाने के लिए हमारी इन वैबसाइट्स से भी जुड़ें -

👉 www.thetruefact.com

👉 www.thekhabarnamaindia.com

👉 www.gairsainlive.com

Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.

To Top