UTTRAKHAND NEWS

Big breaking :-UTTRAKHAND Earthquake alert app से ‘अलार्म’ गायब, दो बार भूकंप आने पर भी नहीं किया सतर्क

उत्तराखंड Earthquake अलर्ट एप से ‘अलार्म’ गायब, दो बार भूकंप आने पर भी नहीं किया सतर्क

भूकंपीय दृष्टि से संवेदनशील उत्तराखंड में आमजन को सतर्क करने के उद्देश्य से विकसित उत्तराखंड भूकंप अलर्ट एप से ‘अलार्म’ गायब है। आमतौर पर माक ड्रिल के दौरान मोबाइल पर अपलोड इस एप से अलार्म अवश्य सुनाई देता है, लेकिन भूकंप आने पर नहीं। शनिवार को नेपाल में आए भूकंप से उत्तराखंड से लेकर दिल्ली तक धरती डोली, लेकिन इस एप ने सतर्क नहीं किया।

भूकंप आने पर अलार्म नहीं बजा
यद्यपि, अधिकारियों का कहना है कि 5.5 से अधिक परिमाण का भूकंप आने पर ही अलार्म बजता है, लेकिन नौ नवंबर को उत्तराखंड की सीमा से सटे नेपाल में 6.3 परिमाण का भूकंप आने पर अलार्म नहीं बजा था। आपदा प्रबंधन विभाग के एक अधिकारी के मुताबिक इस भूकंप का केंद्र राज्य के नेटवर्क से दूर था। ऐसे में प्राइमरी तरंगों को राज्य में लगे सेंसर रीड करते हैं और ये 5.5 से कम की तीव्रता की थीं। इसी कारण अलार्म नहीं बजा।

आइआइटी के सहयोग से विकसित किया एप

उत्तराखंड राज्य आपदा प्रबंधन प्राधिकरण ने पिछले वर्ष आइआइटी रुड़की के सहयोग से उत्तराखंड भूकंप अलर्ट एप विकसित किया। कहीं भी भूकंप आने पर उसकी परिधि में आने वाले क्षेत्र में यह एप अलर्ट का अलार्म बजाता है, ताकि लोग सतर्क होकर अपना बचाव कर सकें।गत वर्ष अगस्त में इस एप को लांच किया गया था। इसके पश्चात राज्यवासियों से अपील की गई कि वे इस एप को अपने मोबाइल में अपलोड करें, ताकि उन्हें अलर्ट मिल सकें। यही नहीं, एप में भूकंप से बचाव आदि की जानकारियां भी दी गई हैं।बड़ी संख्या में नागरिकों ने यह एप अपने मोबाइल में अपलोड किया है, लेकिन यह शो-पीस बनकर रह गया है। ये बात अलग है कि गाहे-बगाहे भूकंप को लेकर माक ड्रिल के दौरान इस एप के जरिये अलर्ट बजता है, लेकिन जरूरत के वक्त यह सेवा ठप हो जाती है।

एप के काम न करने पर उठाया सवाल
एसडीसी फाउंडेशन के अध्यक्ष अनूप नौटियाल ने उत्तराखंड भूकंप अलर्ट एप के काम न करने पर सवाल उठाया है। उन्होंने कहा कि शनिवार को भूकंप आने पर भी इस एप में अलार्म नहीं बजा। ये जरूर है कि जब आवश्यकता नहीं होती, तब यह अक्सर अलार्म देता है। उन्होंने आपदा प्रबंधन अधिकारियों से इस ओर ध्यान देने की मांग की है।आपदा परिचालन केंद्र में नहीं थी सूचना
शनिवार को भूकंप आने पर राज्य के लगभग सभी हिस्सों में धरती डोली, लेकिन राज्य आपदा परिचालन केंद्र में रात 8:10 बजे तक कोई सूचना नहीं थी। यद्यपि, रात 8:20 बजे केंद्र में फोन करने पर यह अवश्य बताया गया कि पिथौरागढ़ में भूकंप के झटके महसूस होने की सूचना मिली है। अन्य केंद्रों से जानकारी जुटाई जा रही है। रात करीब साढ़े नौ बजे बताया गया कि भूकंप से राज्य में कहीं किसी प्रकार के नुकसान की सूचना नहीं है।

लेटेस्ट न्यूज़ अपडेट पाने के लिए -

👉 न्यूज़ हाइट के समाचार ग्रुप (WhatsApp) से जुड़ें

👉 न्यूज़ हाइट से टेलीग्राम (Telegram) पर जुड़ें

👉 न्यूज़ हाइट के फेसबुक पेज़ को लाइक करें

👉 गूगल न्यूज़ ऐप पर फॉलो करें


अपने क्षेत्र की ख़बरें पाने के लिए हमारी इन वैबसाइट्स से भी जुड़ें -

👉 www.thetruefact.com

👉 www.thekhabarnamaindia.com

👉 www.gairsainlive.com

Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.

To Top