Delhi news

Big breaking:-त्रिवेन्द्र ने जनरल विपिन रावत के परिजनों को ढाढस बंधाया तो कांग्रेसियो ने प्रदेश कार्यालय में दी उत्तराखंड के वीर सपूत को श्रद्धांजलि

 

देश में जनरल बिपिन रावत के निधन से एक बड़ा धक्का जनता को लगा है लोगों को विश्वास नहीं हो रहा है कि वह हमारे बीच में नहीं है ऐसे में उत्तराखंड जैसे राज्य में जहां जनरल बिपिन रावत को जानने वाले और उन्हें चाहने वाले बहुत हैं ऐसे में उनको लगातार श्रद्धांजलि देने कई लोग दिल्ली उनके आवास पहुंच रहे हैं तो कुछ उत्तराखंड में ही श्रद्धांजलि अर्पित कर रहे हैं सीएम पुष्कर सिंह धामी के साथ साथ पूर्व सीएम त्रिवेंद्र सिंह रावत ने जनरल बिपिन रावत के परिजनों को ढाढस बंधाने की कोशिश की त्रिवेंद्र सिंह रावत के अनुसार

दिवंगत जनरल बिपिन रावत जी के परिजनों से भेंट कर शोक संवेदना व्यक्त की व इस असहनीय पीड़ा को सहन करने के लिए ढांढस बंधाया।

बहादुर पिता की बहादुर बेटियों को देखा। ऐसी विकट घड़ी में भी स्वयं को संभालते हुए आगंतुकों को मिलना, उनकी चिंता करते देख अपार गौरव की अनुभूति हुई।

यह भी पढ़ें👉  Big breaking:-चुनाव आयोग ने राजनीतिक रैलियों, रोड शो पर पाबंदी 31 जनवरी 2022 तक बढ़ा दी

 

 

 

वही कांग्रेस के प्रदेश अध्यक्ष गणेश गोदियाल ने सीडीएस बिपिन रावत को श्रद्धांजलि देकर कहा कि कांग्रेस जनरल रावत के सभी सपनों को साकार करेगी। कहा कि उत्तराखंड में सरकार बनते ही कांग्रेस सबसे पहले जनरल रावत के गांव तक सड़क बनाएगी। आपको बता दें कि पौड़ी जिले में जन्मे सीडीएस रावत के गांव सैंणा में अभी तक सड़क नहीं बन पाई है।

यह भी पढ़ें👉  Big breaking:-ऐसा क्या डर खाया बीजेपी वालो की बीजेपी कार्यालय में खड़े कर दिए बाउंसर

 

 

गरुवार को देहरादून में राजीव भवन में आयोजित श्रद्धांजलि कार्यक्रम में जनरल रावत को भावभीनी श्रद्धांजलि देकर अध्यक्ष गणेश गोदियाल ने कहा कि पूर्व सीएम हरीश रावत, प्रदेश प्रभारी देवेंद्र यादव सहित कांग्रेस पार्टी के वरिष्ठ नेता शुक्रवार को दिल्ली जाकर भी जनरल रावत को श्रद्धा सुमन अर्पित करेंगे। कहा कि सरकार बनते ही जनरल रावत के गांव में एक उच्च शिक्षण संस्थान भी खोला जाएगा। कहा कि वह और कांग्रेस के कई वरिष्ठ नेता 11 दिसंबर को ग्रीष्मकालीन राजधानी गैरसैंण में भी जनरल रावत को श्रद्धांजलि देंगे।
गोदियाल ने घोषणा की है कि उत्तराखंड के पांचाें प्रयागों में भी जनरल रावत के नाम से विशेष पूजा-अर्चना भी की जाएगी। कहा कि हम सभी के लिए यह बहुत गर्व की बता है कि उत्तराखंड हमेशा से ही शहीदों के बलिदान के देशभर में जाना जाता है। रणभूमि की रक्षा करते हुए अपने प्राणाें का बलिदान देना वीर भूमि का इतिहास रहा है।

लेटेस्ट न्यूज़ अपडेट पाने के लिए -

👉 न्यूज़ हाइट के समाचार ग्रुप (WhatsApp) से जुड़ें

👉 न्यूज़ हाइट से टेलीग्राम (Telegram) पर जुड़ें

👉 न्यूज़ हाइट के फेसबुक पेज़ को लाइक करें


अपने क्षेत्र की ख़बरें पाने के लिए हमारी इन वैबसाइट्स से भी जुड़ें -

👉 www.thetruefact.com

👉 www.thekhabarnamaindia.com

👉 www.gairsainlive.com

Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

To Top