UTTRAKHAND NEWS

Big breaking :-होली की तारीखों को लेकर हैं कन्फ्यूजन तो ज्योतिषी एवं वास्तु विशेषज्ञ पंकज कलखुड़िया बता रहे ये महत्वपूर्ण बात

प्रसिद्ध अंक ज्योतिषी एवं वास्तु विशेषज्ञ पंकज कलखुड़िया जी के अनुसार इस बार होली का दहन और छलड़ी के ऊपर अलग-अलग तारीखों की बातें सामने आ रही है बहुत जगह छलड़ी 18 तारीख को तो बहुत जगह छलड़ी 19 तारीख को मनाई जाने वाली है हम अगर हमारे हिंदू पंचांग के हिसाब से बात करें तो होलिका दहन के लिए जो शुभ मुहूर्त रहता है वह पूर्णिमा का रहता है

 

यह भी पढ़ें👉  Big breaking :-हिप्पोक्रेटिक ओथ की जगह ‘महर्षि चरक शपथ’ लेंगे मेडिकल छात्र, मेडिकल शिक्षण संस्थानों में स्थापित होगी चरक, सुश्रुत एवं धन्वंतरि की मूर्तियां

 

17 मार्च 2022 की दोपहर 1:29 से 18 मार्च की दोपहर 12:52 तक पूर्णिमा तिथि पूर्ण रूप से प्रभावी रहेगी, होलिका दहन के लिए पूर्णिमा की रात्रि का समय देखा जाता है तो इसलिए इस बार जो होली की चीर जलेगी, वह 17 मार्च 2022 को रात्रि 12:58 से पूर्व भद्रा मुहुर्त होने के कारण रात्रि 12:58 बजे से रात्रि 02:12 के मध्य जलेगी, प्रतिपदा तिथि को कभी भी छलड़ी मनाने के लिए देखा जाता है जो कि 18 मार्च की दोपहर 12:58 से लेकर के 19 मार्च की दोपहर 12:13 तक रहेगी, इसलिए प्रतिपदा की उदय तिथि इस बार 19 मार्च को होने के कारण होली में छलड़ी 19 मार्च को खेली जाएगी!

लेटेस्ट न्यूज़ अपडेट पाने के लिए -

👉 न्यूज़ हाइट के समाचार ग्रुप (WhatsApp) से जुड़ें

👉 न्यूज़ हाइट से टेलीग्राम (Telegram) पर जुड़ें

👉 न्यूज़ हाइट के फेसबुक पेज़ को लाइक करें

👉 गूगल न्यूज़ ऐप पर फॉलो करें


अपने क्षेत्र की ख़बरें पाने के लिए हमारी इन वैबसाइट्स से भी जुड़ें -

👉 www.thetruefact.com

👉 www.thekhabarnamaindia.com

👉 www.gairsainlive.com

Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.

To Top