UTTRAKHAND NEWS

Big breaking:-सीएम सुनाते कहानी कभी अपनी कभी 4 ब्राह्मण की , लेकिन बड़ा सवाल निशाना किसपर साध रहे

प्रदेश के मुख्यमंत्री पुष्कर धामी युवा सीएम है और भाषण भी सहज भाव से देते हैं साफ है मच पर हरक और त्रिवेंद्र दोनों दिग्गज नेता बैठे थे और अपने मंत्री बनने की कोशिश और लगातार असफलता की कहानी सीएम धामी सुनाते रहे ,

सीएम एक बार पहले भी कह चुके थे की त्रिवेंद्र जी मुख्यमंत्री थे तब उम्मीद थी मंत्री बन जाऊंगा फिर तीरथ जी सीएम बने तब तो मीडिया ने भी नाम चलाया लेकिन फिर भी नही बना जबकि अपने तमाम आला नेताओ से कहा था कि की मेरी भी कोई जिम्मेदारी फिक्स की जाए लेकिन नही हुआ मैंने कपड़े सभी रख दिये

लेकिन एका एक घटना घटी और मैं सीएम बन गया जबकि इस बार मैंने किसी को नही कहा सीएम कहानी सुनाते रहे लोग हस्ते और ताली मारते रहे फिर मुख्यमंत्री पुष्कर धामी ने सुनाई चार ब्राह्मणों की कहानी।

यह भी पढ़ें👉  Big breaking:-मुख्यमंत्री ने किया मसूरी विधानसभा क्षेत्र की 70 करोड़ रूपये की योजनाओं का लोकार्पण एवं शिलान्यास , मसूरी विधानसभा क्षेत्र के लिए मुख्यमंत्री ने की 14 घोषणाएं

सीएम बोले एक बार चार ब्राह्मणों को मरा हुआ एक शेर मिला, तीन ने कहा इसे ज़िंदा कर देते है, चौथा बोला ज़िंदा होते ही खा जाएगा, तीन नहीं माने तो चौथा जो मूर्ख था वो पेड़ पर चढ़ गया। शेर ज़िंदा हुआ और तीनों विद्वान ब्राह्मणों को खा गया और चौथा पेड़ पर था तो बच गया।

यह भी पढ़ें👉  Big breaking:-देहरादून में स्मार्ट सिटी के काम से विधायक नाराज , अधिकारियों पर मुकदमा दर्ज कराने की मांग की

लच्छीवाला में नेचर पार्क के लोकार्पण कार्यक्रम में मंचासीन पूर्व मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र रावत और मंत्री हरक सिंह रावत भी बड़े गौर से इस कहानी को सुन रहे थे। अब सियासी पंडित निहितार्थ निकाल रहे है कि कहानी किसके लिए थी।

यह भी पढ़ें👉  Big breaking:-पंजाब से बड़ा अपडेट सीएम कैप्टन अमरिंदर सिंह ने दिया सीएम पद से इस्तीफा ,कहा मैंने अपमानित महसूस किया
Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

To Top