UTTRAKHAND NEWS

Big breaking:-सरकार ने दे दिए रोजगार के आंकड़े तो हरदा लेंगे राजनीति से सन्यास

आगामी साल 2022 में होने वाले विधानसभा चुनाव में मुख्य रूप से महंगाई और बेरोजगारी का मुद्दा हावी रहने वाला है। तो वही चुनाव से पहले ही जहां एक और राज्य सरकार, तमाम सरकारी भर्तियों को जल्द से जल्द कराने की बात कह रही है। तो वहीं, मुख्य विपक्षी दल कांग्रेस भाजपा के इस कार्यकाल के दौरान सरकारी नौकरी दिए जाने को लेकर सवाल खड़े कर रही है। पूर्व मुख्यमंत्री हरीश रावत ने भाजपा पर सवाल खड़े करते हुए कहा कि राज्य सरकार सिर्फ इतना बता दे कि किस-किस विभागों में नौकरियां दी गई हैं। और अगर सरकार बता देती है तो हरीश रावत राजनीति छोड़ देंगे।

 

यह भी पढ़ें👉  Big breaking:-स्वास्थ्य विशेषज्ञों बोले राज्य में तत्काल रैली, समारोह और शादियों में भीड़ जुटाने पर प्रतिबंध लगे

 

 

उत्तराखंड राज्य में महंगाई और बेरोजगारी का मुद्दा, जोरो-शोरो से गूंज रहा है। जिसकी मुख्य वजह यह है कि मुख्य विपक्षी दल कांग्रेस लगातार इन दोनों मुद्दों को भुनाने में जुटी हुई है। क्योंकि कांग्रेस समेत अन्य विपक्षी दल लगातार महंगाई और बेरोजगारी के मुद्दे को लेकर राज्य सरकार पर हमलावर नजर आ रहे हैं। हालांकि, सूबे के मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने राज्य की कमान संभालने के बाद ही करीब 22 हज़ार पदों पर भर्ती करने का वादा किया था, जिसकी प्रक्रिया गतिमान है।

 

यह भी पढ़ें👉  Big breaking:-उधमसिंहनगर SSP ने किए ये बंपर तबादले

 

 

बावजूद इसके मुख्य विपक्षी दल कांग्रेस लगातार राज्य सरकार को बेरोजगारी और महंगाई के मुद्दे को लेकर घेरने की कवायद में जुटी हुई है। पूर्व मुख्यमंत्री हरीश रावत ने कहा कि राज्य सरकार सिर्फ इतना बता दे कि 3200 लोगों को किस विभाग और कहां पर नौकरी दी है। अगर यह बता देते हैं तो हरीश रावत राजनीति छोड़ देंगे। साथ ही हरदा ने कहा कि राज्य सरकार साफ-साफ रोजगार के मुद्दे पर झूठ बोल रही है। यही नहीं, उन्होंने जिनती भर्तियां का अधियाचन जारी किया था, उस पर कोई भी कार्रवाई नही हुई है

यह भी पढ़ें👉  Big breaking:-SSP अल्मोड़ा ने जिले में पुलिसकर्मियों के कर दिए बंपर तबादले

 

 

 

वही, हरीश रावत के इस बयान पर भाजपा के प्रदेश अध्यक्ष मदन कौशिक ने कहा कि भाजपा ने इस शासनकाल में करीब आठ लाख से ज्यादा युवाओं को रोजगार देने का काम किया है। और इन्होंने रोजगार देने का पूरा आंकड़ा, संसदीय कार्य मंत्री रहते हुए विधानसभा में रखा था। तो वही, शासकीय प्रवक्ता सुबोध उनियाल ने कहा कि हरीश रावत को अब राजनीति छोड़ देनी चाहिए।

Ad
Ad

लेटेस्ट न्यूज़ अपडेट पाने के लिए -

👉 न्यूज़ हाइट के समाचार ग्रुप (WhatsApp) से जुड़ें

👉 न्यूज़ हाइट से टेलीग्राम (Telegram) पर जुड़ें

👉 न्यूज़ हाइट के फेसबुक पेज़ को लाइक करें


अपने क्षेत्र की ख़बरें पाने के लिए हमारी इन वैबसाइट्स से भी जुड़ें -

👉 www.thetruefact.com

👉 www.thekhabarnamaindia.com

👉 www.gairsainlive.com

Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

To Top