UTTRAKHAND NEWS

Big breaking :-शिक्षा विभाग ने आचार संहिता हटते ही लिया अब ये बड़ा फैसला बच्चों को मिलेगी बड़ी राहत

वित्तीय वर्ष 2021-22 में राज्य के समस्त राजकीय एवं अशासकीय सहायता प्राप्त विद्यालयों में कक्षा-1 से कक्षा-8 तक अध्ययनरत छात्र-छात्राओं को निःशुल्क जूता एवं बैग उपलब्ध कराये जाने हेतु डी०बी०टी० के माध्यम से धनराशि का भुगतान किये जाने हेतु धनराशि की स्वीकृति के आदेश.

 

 

 

उपर्युक्त विषयक शासनादेश संख्या: 30 / XXIV-A-2/ 2021-27 / 2021 दिनांक 07.01.2022 एवं शासनादेश संख्या 933 / XXIV-A-2/2021-27/ 2021 दिनांक 07.01.2022 के द्वारा वित्तीय वर्ष 2021-22 में राज्य के समस्त राजकीय एवं अशासकीय सहायता प्राप्त विद्यालयों में कक्षा 1 से कक्षा-8 तक अध्ययनरत् छात्र-छात्राओं को निःशुल्क जूता एवं बैग उपलब्ध कराये जाने हेतु डी०बी०टी० के माध्यम से धनराशि का भुगतान किये जाने हेतु स्वीकृति प्रदान की गयी है। स्वीकृत धनराशि के सापेक्ष धनराशि शासनादेश में उल्लिखित शर्तों एवं प्रतिबन्धों के अधीन संलग्न विवरण के अनुसार आपके निवर्तन पर रखने की स्वीकृति प्रदान की जाती है।

 

यह भी पढ़ें👉  Big breaking :-हरिद्वार - गंगा नदी में डूबा युवक, एसडीआरएफ उत्तराखंड पुलिस ने किया शव बरामद

 

 

1 वित्त विभाग के शासनादेश संख्या: 423/09 (150) 2019/XXVII(1)/2021 दिनांक 31.03.2021 की शर्तो का अनुपालन वित्तीय वर्ष 2021-22 के आय-व्ययक की निवर्तन पर रखी जा रही धनराशि के व्यय में सुनिश्चित किया जायेगा। शासकीय व्यय हेतु उत्तराखण्ड अधिप्राप्ति नियमावली 2017, वितीय नियम संग्रह खण्ड-1 (वित्तीय अधिकारों का प्रतिनिघायन 2018, 2019), वित्तीय नियम संग्रह-05 भाग-1 (लेखा नियम) तथा अन्य सुसंगत शासनादेशों आदि का पालन सुनिश्चित किया जाय।

यह भी पढ़ें👉  Big breaking :-केदारनाथ मे सुशांत सिंह राजपूत के सेल्फी पॉइंट का आइडिया ड्राप, अब इनके नाम पर बनेगा सेल्फी पॉइंट, सुनिए सतपाल महाराज क्या बोले

 

 

 

2 आवंटित धनराशि का आहरण प्रत्येक दशा में दिनांक 31.032022 तक करते हुए भुगतान डी०बी०टी० के माध्यम से संबंधित छात्र-छात्राओं कर दिया जाय भुगतान प्रक्रिया में विलम्ब/ लेप्स होने अधिकारियों का उत्तरदायित्व निर्धारित किया जायेगा। 3 दशा म्बन्धित योजनाओं की विभिन्न मदों पर व्यय शासन के वर्तमान नियमों एवं आदेशों के अनुरूप ही किया जायेगा तथा

जहां आवश्यक हो सक्षम अधिकारी की पूर्व सहमति / स्वीकृति प्राप्त की जाय।

 

• वित्त विभाग उत्तराखण्ड शासन के शासनादेश संख्या 183 / XXVIl(1)/2012 दिनांक 28 मार्च 2012 एवं

शासनादेश संख्या 132/XXVIl(6) / 430 / एक / 2008 / 2019 दिनांक 29 मार्च 2019 में उल्लिखित प्राविधान के

यह भी पढ़ें👉  Big breaking :-शर्मनाक - पहाड़ो की रानी मसूरी मे पर्यटन की आड मे चल रहा ये धंधा, पुलिस ने किया बड़े गिरोह का पर्दाफाश

अनुसार धनराशि पृथक आलटमैंट आई0डी0 के अन्तर्गत साफ्टवेयर (IFMS) के माध्यम से आनलाइन अवमुक्त कर दी

गयी है। धनराशि आहरण / व्यय किये जाने हेतु उक्त शासनादेश में उल्लिखित प्राविधानों के अनुसार अग्रेत्तर

कार्यवाही सुनिश्चित की जाय।

5 इस सम्बन्ध में होने वाला व्यय चालू वित्तीय वर्ष 2021-22 के आय व्ययक में अनुदान संख्या – 11 राजस्व के अधीन लेखाशीर्षक 2202- सामान्य शिक्षा 01 प्रारम्भिक शिक्षा 101 राजकीय प्राथमिक विद्यालय, 13 कक्षा-1 से कक्षा-8 तक विद्यार्थियों हेतु निःशुल्क जूता एवं बैग की व्यवस्था के अन्तर्गत संलग्नक में उल्लिखित प्राथमिक इकाईके  नामें डाला जायेगा। संलग्न आवंटन आई०डी०।

लेटेस्ट न्यूज़ अपडेट पाने के लिए -

👉 न्यूज़ हाइट के समाचार ग्रुप (WhatsApp) से जुड़ें

👉 न्यूज़ हाइट से टेलीग्राम (Telegram) पर जुड़ें

👉 न्यूज़ हाइट के फेसबुक पेज़ को लाइक करें

👉 गूगल न्यूज़ ऐप पर फॉलो करें


अपने क्षेत्र की ख़बरें पाने के लिए हमारी इन वैबसाइट्स से भी जुड़ें -

👉 www.thetruefact.com

👉 www.thekhabarnamaindia.com

👉 www.gairsainlive.com

Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.

To Top