UTTRAKHAND NEWS

Big breaking:-प्रदेश अध्यक्ष ,मंत्री , विधायक सब कांग्रेस से रह लिए किशोर उपाध्याय फिर भी उपेक्षा का रोना

 

पार्टी गेम वरिष्ठ नेताओं में से एक किशोर उपाध्याय इन दिनों आए दिन अपनी उपेक्षा की बात कर रहे हैं हालांकि ये वही किशोर हैं जिनको पार्टी ने कांग्रेस का अध्यक्ष बनाया पार्टी के टिकट पर ही वह विधायक भी रहे लेकिन दो बार वह चुनाव हार गए लेकिन फिर भी वह खुद की उपेक्षा की बात कर रहे हैं

कांग्रेस के पूर्व प्रदेश अध्यक्ष और चुनाव संचालन समिति के सदस्य किशोर उपाध्याय ने पार्टी फोरम में अपनी क्षमता के अनुसार न्याय ना मिलने की बात कहकर बड़ी बहस को जन्म दे दिया है.

किशोर उपाध्याय ने कहा कि कांग्रेस में उनके साथ न्याय नहीं हो रहा है. कांग्रेस के पूर्व प्रदेश अध्यक्ष और कांग्रेस संचालन समिति के सदस्य किशोर उपाध्याय का दर्द छलका. उन्होंने कहा कि कांग्रेस में उनके साथ न्याय नहीं हुआ है. उत्तराखंड में कांग्रेस को स्थापित करने में अगर हरीश रावत का योगदान बहुत बड़ा है तो किशोर उपाध्याय का भी 10-20% योगदान है. लेकिन आज तक पार्टी ने उनकी योग्यता के अनुसार उनके साथ न्याय नहीं किया.

यह भी पढ़ें👉  Big breaking:-नही की थी पत्नी ने आत्महत्या , पति ने ही की थी हत्या , आत्महत्या बनाने की कर रहा था कोशिश

राज्य स्थापना के बाद से आज तक पार्टी में लगातार उनकी उपेक्षा की जा रही है.किशोर उपाध्याय ने कहा कि जब वो अमेठी में राजीव गांधी के चुनाव इंचार्ज थे. तब राजीव गांधी भारी मतों से जीते थे. उसके बाद राजीव गांधी ने उन्हें वहीं से चुनाव लड़ने का आग्रह भी किया था. उन्होंने उनके आग्रह का आदर करते हुए पहाड़ क्षेत्र का विकास करना उचित समझा.

यह भी पढ़ें👉  Big breaking:-मुख्यमंत्री ने गुरुद्वारा नानकसर में लिया गुरु का आशीर्वाद , समाज की निस्वार्थ सेवा है सिख समाज की पहचान ,लंगर चखने के बाद खुद किए बर्तन साफ

लेकिन कांग्रेस ने उत्तराखंड में उनके साथ न्याय नहीं किया.2002 में कांग्रेस सरकार में उन्हें मंत्री होना चाहिए था, वह लाभ उन्हें नहीं मिला. पहले ही संगठन में बड़ा पद मिल जाना चाहिए था, वो नहीं मिला और यहां तक कि राज्यसभा जाने तक में भी उनके साथ भेदभाव किया गया.

हालांकि, किशोर उपाध्याय ने ये भी कहा कि आज वह जो कुछ भी हैं, वह कांग्रेस पार्टी की ही देन है. वो कांग्रेस के सच्चे सिपाही हैं और उत्तराखंड में कांग्रेस को मजबूत करने का काम करेंगे.वहीं, उन्होंने पुरोला से विधायक राजकुमार के भाजपा में जाने के सवाल पर कहा कि इस बारे में मौजूदा प्रदेश अध्यक्ष ही बेहतर बता सकते हैं.

यह भी पढ़ें👉  Big breaking:-देहरादून में यहाँ बड़ा हादसा होने से टला , दो मंजिला मकान का एक हिस्सा भरभरा कर गिरा

उन्होंने कहा कि कांग्रेस की सोच ऐसी नहीं है कि वह किसी दूसरी पार्टी में तोड़फोड़ करें.  लेकिन भाजपा ने इस काम में मास्टर डिग्री हासिल की है. आज पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी जो भाजपा के मार्गदर्शक एवं आदर्श हैं, उनकी आत्मा दुखी हो रही होगी.

वहीं, आगामी चुनाव उन्होंने कहा कि सभी पार्टियों को उत्तराखंड की जनता को हितों को ध्यान में रखते हुए घोषणा पत्र तैयार करना चाहिए. जिसमें बिजली-पानी और अन्य अधिकारों को मुफ्त दिया जाना चाहिए. उन्होंने कहा कि वह पार्टी में इस बात को प्रमुखता से रखेंगे कि उत्तराखंड की जनता को बिजली पानी मुफ्त दिया जाए.

Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

To Top