UTTRAKHAND NEWS

Big breaking :-तो क्या STF ने पकड़ लिया भर्ती घोटाले का मास्टर माइंड, या अभी और परते खुलनी बाकी

अधीनस्थ सेवा चयन आयोग उत्तराखण्ड द्वारा वर्ष 2021 के माह दिसम्बर में आयोजित स्नातक स्तरीय परीक्षा में हुई गड़बड़ियों के परिप्रेक्ष्य में देहरादून के थाना रायपुर पर पंजीकृत मुकदमे की विवेचना वर्तमान में एस0टी0एफ0 द्वारा की जा रही है। उक्त मुकदमें की विवेचना के दौरान अभी तक गिरफ्तार किये गये अभियुक्तों से की गई गहन पूछताछ एवं जानकारी से ज्ञात हुआ था कि] अधीनस्थ सेचा चयन आयोग उत्तराखण्ड द्वारा उक्त परीक्षा का गोपनीय कार्य करने हेतु लखनऊ स्थित आर0एम0एस0 टेक्नो सोल्यूशन नाम की जिस कम्पनी को Contract दिया गया था] उस कम्पनी के कुछ कर्मचारी भी उक्त परीक्षा का पेपर लींक कराने में संलिप्त है।

 

 

उक्त जानकारी के आधार पर एस0टी0एफ0 की एक टीम को गोपनीय रूप से सूचना एकत्र करने हेतु लखनऊ भेजा गया था, टीम द्वारा जानकारी करने पर ज्ञात हुआ कि उक्त कम्पनी में अभिषेक वर्मा नाम के कर्मचारी द्वारा विगत कुछ महीनों में अपने गॉव शेरपुर जनपद सीतापुर में एक मकान का निर्माण कराने व लखनऊ में मकान का Renovation कराने एवं नई गाड़ी डिजायर को क्रय करने आदि में लगभग 30- लाख रूपये खर्च किये गये है, जब कि अभिषेक वर्मा को उक्त कम्पनी द्वारा वेतन के रूप में मात्र 21000/-रु0 दिये जाते हैं। इस प्रकार अल्प समायावधि में अभिषेक वर्मा द्वारा इतनी अधिक मात्रा में धन व्यय करना संदिग्ध प्रतीत हो रहा था। अभिषेक वर्मा के बारे में जानकारी करने पर ज्ञात हुआ कि, वह किसी कार्य से देहरादून आया हुआ है। इस सम्बन्ध में देहरादून में एस0टी0एफ0 की टीम को अभिषेक वर्मा के बारे में जानकारी देते हुए सक्रिय किया गया जिस पर एस0टी0एफ0 की देहरादून टीम द्वारा अभिषेक वर्मा को एस0टी0एफ0 कार्यालय में पूछताछ हेतु बुलाया गया।

 

 

अभिषेक वर्मा से की गई गहन पूछ-ताछ एवं प्राप्त की गई जानकारी के दौरान उसके द्वारा बताया कि, वह आर0एम0एस0 टेक्नो सोल्यूशन कम्पनी में काम करता है तथा वहॉ पर पेपर का सेट बनाकर उसे सील करने का कार्य कर रहा था। इसी दौरान उसके द्वारा उक्त परीक्षा के तीनों पालियों के लिए तैयार किये गये पेपरों में से प्रत्येक पाली का एक-एक सेट निकाल लिये गये थे तथा अपने मोबाईल से Telegramme App के माध्यम से आगे भेजे गये जिस सम्बन्ध में Electronic साक्ष्य संकलन किया जा रहा है।

 

 

उक्त कार्य के लिए अभिशेक वर्मा को 36लाख मिले थे प्राप्त रकम में से उसके द्वारा 950000/- से अपने गॉव में दो कमरे बनवाये, 900000/- रूपये में डिजायर गाड़ी खरीदी, 300000/- रूपये अपने मॉ के खाते में, 150000/- रूपये अपने भाई के खाते में, 200000/- अपने पिताजी के खाते में तथा कुछ रूपये अपनी पत्नी एवं कुछ अपने परिचितों के खातों में डाले है। इस सम्बन्ध में भी जॉच की जा रही है जॉचोंपरान्त कार्यवाही की जाएगी।

Ad

लेटेस्ट न्यूज़ अपडेट पाने के लिए -

👉 न्यूज़ हाइट के समाचार ग्रुप (WhatsApp) से जुड़ें

👉 न्यूज़ हाइट से टेलीग्राम (Telegram) पर जुड़ें

👉 न्यूज़ हाइट के फेसबुक पेज़ को लाइक करें

👉 गूगल न्यूज़ ऐप पर फॉलो करें


अपने क्षेत्र की ख़बरें पाने के लिए हमारी इन वैबसाइट्स से भी जुड़ें -

👉 www.thetruefact.com

👉 www.thekhabarnamaindia.com

👉 www.gairsainlive.com

Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.

To Top