UTTRAKHAND NEWS

Big breaking:-सतपाल महाराज जी संज्ञान ले , ये कैसा गड़बड़झाला , जब बाड़ ही खेत को खाने लगे तो फसल बेचारी कहा जाए , विभाग के पत्रों से हो गया भ्रष्टाचार का खुलासा

लोक निर्माण विभाग में भ्रष्टाचार के मामले आए दिन सामने आते रहते हैं लेकिन कैसे एक सहायक अभियंता जो निलंबित भी रहा और अब रिटायर भी हो चुका है उसके द्वारा फर्जी ठेकेदार के नाम से लाखों रुपए विभाग से निर्माण के नाम पर ले लिए जी हां भ्रष्टाचार के मामले विभाग के कर्मचारियों और अधिकारियों ने ही पकड़ा है जी हां खीमानंद नाम का ठेकेदार जिस के अकाउंट का पता सहायक अभियंता के घर का ही है जिसके बाद विभाग ने विजिलेंस जांच को भी कहा है आप इन तीन पत्रों को पढ़िए तो आप समझ जाएंगे क्या मामला है

उपरोक्त विषय के सम्बन्ध में अवगत कराना है कि उपरोक्त पत्र इस कार्यालय में दिनांक 3.06.2019 को प्राप्त हुआ है, जबकि ठेकेदार द्वारा अपने पत्र में दिनांक 30.07.2019 इंगित किया गया है। अग्रिम तिथि में पत्र देना सम्भव ही नहीं है। इस पत्र में पत्रांक संख्या व दिनांक तथा ठेकेदार के हस्ताक्षर व दिनांक श्री जे. सी. काण्डपाल, निलम्बित सहायक अभियन्ता की हस्तलिपि में लिखे गये प्रतीत होते है, जिसकी जाँच की आवश्कता है।

उपरोक्त के सम्बन्ध में अवगत कराना है कि मै श्री खीमानन्द भट्ट, ठेकेदार को नही जानता हूँ और नही उनसे कभी मिला हूँ तथा श्री अमित पाण्डेय नामक व्यक्ति को भी मैं नहीं जानता हूँ और न ही वे कभी मुझसे मिले है। इसलिए उनको अधिशासी अभियन्ता अथवा सहायक अभियन्ता से मिलने की बात करना पूर्णतया असत्य एवं निराधार है। इससे ऐसा प्रतीत होता है कि इस प्रकार की झूठी शिकायत कर अधोहस्ताक्षरी को मानसिक रूप से प्रताडित करना है। अतः अनुरोध है कि इस सम्बन्ध में उच्च स्तर से आवश्यक जाँच एवं कार्यवाही करने की कृपा करें।

यह भी पढ़ें👉  Big breaking:-शर्मनाक , गर्भवती महिला को CHC से इलाज नही मिली फटकार , खेल मैदान में दिया बच्चे को जन्म , विधायक के हस्तक्षेप के बाद किया भर्ती

उपरोक्त विषयक सन्दर्भित पत्र के कम में अवगत कराना है कि वर्ष 2015-16 से 2018-19 (10 / 2018 ) तक मेरे द्वारा श्री जे०सी० काण्डपाल, सहायक अभियन्ता के शिविर सहायक के कार्यों का सम्पादन किया गया तथा जो भी अनुबन्ध श्री खीमानन्द ठेकेदार के नाम जो अनुबन्ध गठित हुऐ है उनको मेरे द्वारा चस्पा कर गठित अनुबन्ध पर ठेकेदार के हस्ताक्षर मेरे सम्मुख नहीं कराये गये है श्री जे०सी०काण्डपाल सहाय अभियन्ता द्वारा अनुबन्ध अपने कक्ष में मंगाये जाते थे तथा उन अनुबन्धों को तीन से चार दिनों के अन्दर ठेकेदार एवं स्वयं के हस्ताक्षरोंपरान्त पंजीकरण हेतु लौटाये गये है। इसक अतिरिक्त यह भी अवगत कराना है कि श्री खीमानन्द भट्ट, ठेकेदार द्वारा अपने कार्यों के बिलों एवं अन्य कार्यों के सम्बन्ध में व्यक्तिगत रूप से कोई सम्पर्क नहीं किया गया है।

यह भी पढ़ें👉  Big breaking:-हरिद्वार में इस कंपनी पर पडी इनकम टैक्स की रेड

श्री जगदीश चन्द्र काण्डपाल द्वारा किसी खिमानन्द भट्ट के नाम से फर्जी अनुबन्ध गठित किये गये हैं, जिन पर ठेकेदार के फर्जी हस्ताक्षर स्वयं काण्डपाल द्वारा करने की जानकारी प्राप्त हुई है। जिसमें सरकार को लाखों रुपये का नुकसान हुआ जिसकी गहन जाँच की आवश्यकता है। खण्ड द्वारा श्री खीमानन्द भट्ट, ठेकेदार के पक्ष में गठित अनुबन्ध का विवरण उपलब्ध कराया है। (संलग्नक – 43 )

उपरोक्त अनुबन्धों में ठेकेदार के फर्जी हस्ताक्षर स्वयं श्री जे०सी० काण्डपाल, सहायक अभियन्ता के द्वारा किये जाने की जाँच किसी सक्षम ऐजेन्सी से कराई जा सकती है।

यह भी पढ़ें👉  Big breaking:-पीएम मोदी की रैली से पहले बीजेपी के वरिष्ठ नेता भुवन चंद्र खण्डूरी से मिलने पहुँचे बीजेपी के ये बड़े नेता

बिन्दु संख्या – 11 यह भी जानकारी में आया है कि श्री जगदीश चन्द्र काण्डपाल द्वारा खीमानन्द भट्ट के नाम से देहरादून के राजपुर रोड़ पर ऑरियन्टल बैंक ऑफ कॉमर्स में फर्जी खाता खुलवाया गया है, जिसमें इनके द्वारा स्वयं अपना पता दिया गया है। इस बैक खाते से पैसों का लेनदेन श्री जगदीश चन्द्र काण्डपाल द्वारा फर्जी हस्ताक्षर कर किये जाने की जानकारी प्राप्त हुई है। इसी फर्जी खाते से काण्डपाल द्वारा फर्जी बिलों का भुगतान किया जाता था। इसलिये इसकी गहन जाँच की आवश्यकता है।

श्री खीमानन्द भट्ट के नाम देहरादून के राजपुर रोड पर Oriental Bank of Commerce में खाता संख्या 0649204100012 खुला है जिसकी पास बुक में पता Clo Anita Kandpal W/o JC Kandpal Bhavan. Friends Enclave Shah Nagar, Dehradun अंकित

है।मन्तव्यः यह खाता फर्जी है अथवा किसी अन्य के द्वारा Operate किया जा रहा है की जाँच किसी सक्षम एजेन्सी से कराई जा सकती है।

Ad
Ad

लेटेस्ट न्यूज़ अपडेट पाने के लिए -

👉 न्यूज़ हाइट के समाचार ग्रुप (WhatsApp) से जुड़ें

👉 न्यूज़ हाइट से टेलीग्राम (Telegram) पर जुड़ें

👉 न्यूज़ हाइट के फेसबुक पेज़ को लाइक करें


अपने क्षेत्र की ख़बरें पाने के लिए हमारी इन वैबसाइट्स से भी जुड़ें -

👉 www.thetruefact.com

👉 www.thekhabarnamaindia.com

👉 www.gairsainlive.com

Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

To Top