UTTRAKHAND NEWS

Big breaking:-अब मिड डे मील में राज्य के स्कूली छात्रों को मंडवे के बिस्कुट भी मिलेंगे यहाँ हुआ फैसला

Dehradun. उत्तराखंड सहकारी संघ यूसीएफ  की बोर्ड की बैठक आज चेयरमैन  मातबर सिंह रावत की अध्यक्षता में संपन्न हुई। इसमें अलग अलग जिलों से 16 निदेशक सहित प्रबंध निदेशक ने भाग लिया।

बोर्ड की बैठक में हल्दुचौड़ ( नैनीताल) में कोदा झंगोरा की प्रोसेसिंग यूनिट मशीन लगाने के लिए निर्णय हुआ। कोदा झंगोरा की छोटी यूनिट में यहां पहाड़ी प्रोडक्ट पीसे जाएंगे और यूसीएफ इनका देश प्रदेशों में निर्यात करेगा।

मिलेट्स प्रोसिंग इकाई स्थापित करने का निर्णय लिया गया है। जिसकी डीपीआर का आंकलन 8 करोड़ 77 लाख है। जिसमें से 3 करोड़ रुपये मुख्यमंत्री राज्य कृषि विकास योजना से धनराशि स्वीकृत है जिसकी अवमुक्त हेतु कार्रवाई चल रही है।

यह भी पढ़ें👉  Big breaking:-ये IPS अधिकारी साइकिल से निकला देहरादून की सड़कों पर , पुलिस कर्मियों में मच गया हड़कंप

रानीखेत में यूसीएफ की भूमि पर नेचुरलपैथी और वैलनेस सेंटर बनाया जाएगा। लवैलनेस सेंटर में टूरिस्टो की आमद बढ़ेगी और यहां टूरिस्ट योगा भी कर सकेंगे।

राज्य समेकित सहकारी विकास परियोजना से कार्यशील पूंजी लेने पर विचार हुआ। इस पूंजी से उत्तराखंड सहकारी संघ व्यवसाय में वृद्धि करेगा।

कुमाऊं मंडल हल्द्वानी में भी उत्तराखंड सहकारी संघ का एक सब कारपोरेट ऑफिस खोलने पर विचार किया गया।

यह भी पढ़ें👉  Big breaking:-इस भर्ती परीक्षा की तारीखों में हुआ बड़ा बदलाव , अब इस तारीख को होगी परीक्षा

मिड डे मील में राज्य के स्कूली छात्रों को मंडवा के बिस्कुट यूसीएफ की उपलब्ध कराने की योजना है। यह प्रस्ताव पारित किया गया। मण्डवा के बिस्किट की बहुत खपत है।

पहाड़ के दूरदराज कृषकों से मंडवा, झंगोरा, सोयाबीन, राजमा व समस्त उत्पादन खरिदने के लिए उत्तराखंड सहकारी संघ ने 62 क्रय केंद्र खोलने का प्रस्ताव पारित किया । जिसमें यह सभी उत्पाद खरीदे जाएंगे। और किसानों को उचित मूल्य दिया जायेगा।

नाबार्ड के माध्यम से हल्दुचौड़ में वेयरहाउसिंग योजना के तहत 5000 मैट्रिक टन के नए गोदाम बनाए जाने के लिए उत्तराखंड सहकारी संघ ने प्रस्ताव पारित किया।

यह भी पढ़ें👉  Big breaking:-शिक्षा विभाग के अधिकारियों को शिक्षा मंत्री के बड़े निर्देश , दिए इस गंभीर मामले में जांच के निर्देश

इस बोर्ड बैठक में  उमेश त्रिपाठी निदेशक,श्री राजेंद्र सिंह नेगी निदेशक, श्री विजय संत्री निदेशक, श्री दीपक चुफाल निदेशक , श्री हृदेश सिंह निदेशक, श्री आदित्य चौहान निदेशक, श्री शिव बहादुर सिंह निदेशक, श्री नरेंद्र सिंह निदेशक, श्री पीतांबर राम निदेशक, श्रीमती गीता नौटियाल निदेशक श्रीमती कपिल कांता निदेशक, श्रीमती कलावती निदेशक , श्रीमती दीपा बिष्ट निदेशक, श्री विशाल मणि डिमरी निदेशक सहित प्रबंध निदेशक श्री एमपी त्रिपाठी ने हिस्सा लिया।

Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

To Top