UTTRAKHAND NEWS

Big breaking :-नहीं रहे गाँधीवादी नेता राम प्रसाद टम्टा, उत्तराखंड मे शोक की लहर

 

गांधीवादी नेता व पूर्व कैबिनेट मंत्री रामप्रसाद टम्टा का निधन हो गया है. राम प्रसाद टम्टा उत्तराखंड की पहली निर्वाचित सरकार में कैबिनेट मंत्री रहे थे. उनके निधन की सूचना पर बागेश्वर में शोक की लहर दौड़ गई है. रामप्रसाद टम्टा के निधन पर मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी, कैबिनेट मंत्री चन्दन राम दास, विधायक कपकोट सुरेश गड़िया, जिला पंचायत अध्यक्ष बसंती देव समेत विभिन्न सामाजिक संगठनों ने शोक व्यक्त किया है.

 

वह 1968 में यूथ कांग्रेस से जुड़े थे। 1971 में 18 साल की उम्र होने पर संगठन में चले गए।

यह भी पढ़ें👉  Big breaking :-सीएम धामी बोले आप पार्टी के खात्मे की शुरुआत उत्तराखंड से, दिल्ली वाले भी चलेंगे उत्तराखंड की राह

इसी उम्र में महज 12 रुपए खर्च कर ग्राम प्रधान पद का चुनाव लड़ा था। चुनाव जीतने के बाद उनके समर्थकों ने गुड़ की भेली बांट कर खुशी मनाई थी। इसके बाद वह उत्तर प्रदेश की विधानसभा में बागेश्वर से 1993 में पहली बार विधायक बने।

यह भी पढ़ें👉  Big breaking :-तो क्या उत्तराखंड से पीयूष गोयल को राज्यसभा भेजेगी बीजेपी, अगर नहीं तो पैनल मे नाम क्यों हैं

इसके बाद वे राज्य गठन के बाद 2002 में इसी सीट से दोबारा विधायक बने तो उत्तराखंड की पहली निर्वाचित सरकार में वह समाज कल्याण मंत्री बने और मुख्यमंत्री नारायण दत्त तिवारी के साथ 2007 तक मंत्री रहे। उनका कहना था कि समाजसेवा की धुन इस कदर रही कि उन्होंने अपने लिए कुछ नहीं किया।

लेटेस्ट न्यूज़ अपडेट पाने के लिए -

👉 न्यूज़ हाइट के समाचार ग्रुप (WhatsApp) से जुड़ें

👉 न्यूज़ हाइट से टेलीग्राम (Telegram) पर जुड़ें

👉 न्यूज़ हाइट के फेसबुक पेज़ को लाइक करें

👉 गूगल न्यूज़ ऐप पर फॉलो करें


अपने क्षेत्र की ख़बरें पाने के लिए हमारी इन वैबसाइट्स से भी जुड़ें -

👉 www.thetruefact.com

👉 www.thekhabarnamaindia.com

👉 www.gairsainlive.com

Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.

To Top