UTTRAKHAND NEWS

Big breaking :-अब मजारों पर आमने सामने कांग्रेस बीजेपी जमकर हो रहे वार पलटवार

उत्तराखंड कांग्रेस में अब मजारों को लेकर भी कांग्रेस और बीजेपी के बीच हो-हल्ला मचाना शुरु हो गया है कांग्रेस प्रदेश अध्यक्ष ने बयान दिया तो बीजेपी ने भी पलटवार किया जी हां
उत्‍तराखंड कांग्रेस अध्यक्ष करन माहरा ने कहा कि मजारों की जांच हुई तो मंदिर-मठों के लिए भी मांग उठेगी। कहा धर्म विशेष को ध्यान में रखकर बाहर से आने वालों का सत्यापन का कदम उठाया है। उन्‍होंने समान नागरिक संहिता लागू करने के निर्णय पर सवाल उठाए।प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष करन माहरा ने उत्तराखंड में बाहर से आने वालों के सत्यापन और समान नागरिक संहिता को लेकर धामी सरकार को निशाने पर लिया।

 

उन्होंने कहा कि बाहर से आने वालों के सत्यापन का सरकार का कदम धर्म विशेष को ध्यान में रखकर उठाया गया है। प्रदेश में मजारों की जांच होगी तो मंदिर और मठों की जांच की मांग को उठने से रोका नहीं जा सकेगा।करन माहरा ने भाजपा की धामी सरकार पर सांप्रदायिक वातावरण को खराब करने का आरोप लगाया। उन्होंने कहा कि उत्तराखंड में दो-तीन निर्णय चिंता पैदा करने वाले हैं।मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी कह रहे हैं कि प्रदेश में जो भी बाहर से आ रहे हैं, उनका सत्यापन किया जाएगा। एक तथाकथित संत के पत्र के आधार पर यह कदम उठाया गया। जितनी मजारें उत्तराखंड में हैं, वह भूमि किसतरह से कब्जा की गईं हैं, इसकी जांच की बात कही जा रही है। यह चिंता का विषय है।अनेक मंदिर, मठ और साधु-संतों के आश्रम इसी तरह बने हैं। मजारों की जांच होगी तो कोई न कोई मंदिर-मठों की जांच उठेगी। पर्वतीय क्षेत्रों में तपस्या करने गए संतों के आश्रम-मठ ऐसे ही बने हैं। इनकी जांच की मांग भी उठेगी। इससे धार्मिक माहौल खराब होगा। सरकार को मतों के धु्रवीकरण के सिवाय कुछ दिखाई नहीं दे रहा

 

वहीं भाजपा ने भी बड़ा निशाना कांग्रेस पर साधा हैं बीजेपी के सोशल मीडिया हेड शेखर वर्मा बोले कांग्रेस हमेशा तुष्टीकरण की राजनीति करती हैं और तुष्टीकरण  बात करती है , ये वही कांग्रेस हैं जिनके राज में राजस्थान में 300 साल पुराना मंदिर तोड़ दिया जाता हैं और इन्हें शर्म तक नहीं आती वही कांग्रेस उत्तराखंड में जहाँ बद्रीनाथ केदारनाथ जैसे तीर्थ स्थल हैं ऐसे राज्य में सड़को के किनारे अवैध रूप से केवल चद्दर बिछाकर बनी मजारों के लिए रो रही हैं उनके अनुसार देश की जनता इन्हें जान चुकी हैं और पुरे देश में इनके हाल चंपावत के रिजल्ट जैसे ही होंगे क्योंकि  इनकी भावनाएं एक धर्म विशेष को आगे बढ़ाने के लिए ही दिखाई देती हैं

लेटेस्ट न्यूज़ अपडेट पाने के लिए -

👉 न्यूज़ हाइट के समाचार ग्रुप (WhatsApp) से जुड़ें

👉 न्यूज़ हाइट से टेलीग्राम (Telegram) पर जुड़ें

👉 न्यूज़ हाइट के फेसबुक पेज़ को लाइक करें

👉 गूगल न्यूज़ ऐप पर फॉलो करें


अपने क्षेत्र की ख़बरें पाने के लिए हमारी इन वैबसाइट्स से भी जुड़ें -

👉 www.thetruefact.com

👉 www.thekhabarnamaindia.com

👉 www.gairsainlive.com

Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.

To Top