UTTRAKHAND NEWS

Big breaking :-IAS पंकज पांडे प्रदेश के मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी से कुछ सीख लें लो

एक तरफ उत्तराखंड के नौकर शाही खुद को सबसे बड़ा समझती है और बाकी सब कर्मचारियों को अपना गुलाम समझने की नासमझ भूल करती है हाल में स्वास्थ्य सचिव और महिला डॉक्टर के बीच हुए विवाद ने यह बात साबित कर दी की उत्तराखंड की नौकरशाहों के लिए  जनता या कर्मचारियों  की भावना का कोई मतलब नहीं हैं.

 

यह भी पढ़ें👉  Big breaking :-अग्निपथ योजना के विरोध में पूर्व मुख्यमंत्री हरीश रावत का नया मिशन, सीनियर सिटीजन इनीशिएटिव अगेंस्ट अग्निपथ में होंगे शामिल

एक और अधिकारियो  का ऐसा  रवैया  वही दूसरी और  उत्तराखंड के  मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी जी व उनके परिजन सामान्य नागरिक की भांति चिकित्सा हेतु चिकित्सक के पास उनके अस्पताल में स्वयं जा रहे हैं जबकि प्रोटोकॉल के तहत चिकित्सक उनके आवास पर भी आ सकते हैं ।

 

यह भी पढ़ें👉  Big breaking :- कांवड़ियों के हुड़दंग से ऐसे निपटेगी उत्तराखंड पुलिस, DGP अशोक ने बताया प्लान

 

जी हाँ तस्वीर में बुजुर्ग माता सीएम पुष्कर  धामी  की माता हैं और वो CMI हॉस्पिटल के चिकित्सक के पास  पहुंची  हैं ऐसे में अधिकारियों को समझ जाना चाहिए कि जब प्रदेश का मुख्यमंत्री इस तरीके के किसी काम को बढ़ावा नहीं दे रहा है तो फिर अधिकारियों के ऐसे अनुचित काम को कैसे बर्दाश्त करेगा

लेटेस्ट न्यूज़ अपडेट पाने के लिए -

👉 न्यूज़ हाइट के समाचार ग्रुप (WhatsApp) से जुड़ें

👉 न्यूज़ हाइट से टेलीग्राम (Telegram) पर जुड़ें

👉 न्यूज़ हाइट के फेसबुक पेज़ को लाइक करें

👉 गूगल न्यूज़ ऐप पर फॉलो करें


अपने क्षेत्र की ख़बरें पाने के लिए हमारी इन वैबसाइट्स से भी जुड़ें -

👉 www.thetruefact.com

👉 www.thekhabarnamaindia.com

👉 www.gairsainlive.com

Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.

To Top