National news

Big breaking :-KVS Admission 2022: कक्षा 1 में एडमिशन क्राइटेरिया को लेकर HC पहुंचे पैरेंट्स, अधिकारी ने दिया ये तर्क

KVS Admission 2022: कक्षा 1 में एडमिशन क्राइटेरिया को लेकर HC पहुंचे पैरेंट्स, अधिकारी ने दिया ये तर्क

 

 

KVS Admission 2022: इस बार से केवीएस ने क्लास 1 एडमिशन के लिए बच्चों की न्यनतम आयु सीमा 5 वर्ष से बढ़ाकर 6 वर्ष की गई है। इसी को चुनौती देते हुए दिल्ली हाई कोर्ट में याचिका दायर की गई है।

 

केंद्रीय विद्यालय में एडमिशन 2022 क्राइटिया को लेकर दिल्ली हाई कोर्ट (Delhi High Court) में याचिका दायर की गई है। केंद्रीय विद्यालय (KVS) कक्षा 1 एडमिशन 2022 प्रक्रिया 28 फरवरी से शुरू हो चुकी है। लेकिन इस बार से केवीएस ने क्लास 1 एडमिशन के लिए बच्चों की न्यनतम आयु सीमा 5 वर्ष से बढ़ाकर 6 वर्ष की गई है। इसी को चुनौती देते हुए दिल्ली हाई कोर्ट में याचिका दायर की गई है। 2022-23 के लिए आधिकारिक प्रवेश दिशानिर्देश बुकलेट में कहा गया है कि कक्षा 1 के लिए प्रवेश में 31 मार्च को एक बच्चे की आयु 6 वर्ष होनी चाहिए। यानी 1 अप्रैल को जन्म लेने वाले बच्चों पर भी विचार किया जाएगा।

यह भी पढ़ें👉  Big breaking :-प्रदेश के इन मदरसों मे होगी बड़ी कार्यवाई, मंत्री ने दिए संकेत

 

 

 

क्या है मामला?
याचिकाकर्ता के अनुसार, यह मानदंड शिक्षा का अधिकार अधिनियम 2009 का उल्लंघन है। दायर याचिका में कहा गया है कि 2021-22 में, बच्चे को यूकेजी या केजी2 में एडमिशन किया गया था। लेकिन, केवीएस ने प्रवेश प्रक्रिया से ठीक चार दिन पहले अचानक, पोर्टल kvsonlineadmission.kvs.gov.in पर नए दिशा-निर्देश जारी कर दिए। इससे, उन्हें शैक्षणिक वर्ष 2022-23 में केवीएस में कक्षा 1 के लिए अयोग्य बना दिया गया है।

यह भी पढ़ें👉  Big breaking :-उत्तराखंड मे गजब हाल यशपाल तोमर के साथ यूपी पुलिस ने उत्तराखंड के आईएएस और आईपीएस के रिश्तेदारों को बनाया गया सह अभियुक्त, धामी ज़ी आप जान रहे हैं इस अधिकारियो और माफिया के गठजोड़ को करो कार्यवाई

केवीएस अधिकारियों ने दिया ये जवाब
27 फरवरी, 2022 को केन्द्रीय विद्यालय संगठन (केवीएस) को एक कानूनी नोटिस भेजा गया था। इसके जवाब में, केवीएस के अधिकारियों ने कहा कि ‘नई शिक्षा नीति 2020 के कारण न्यूनतम आयु मानदंड को बदलना पड़ा। प्राथमिक स्कूली शिक्षा के तीन साल जोड़े गए हैं, इसलिए कक्षा 1 के लिए आयु को बदलकर 6 वर्ष कर दिया गया है।’ बता दें कि एनईपी 2020 को ’10+2′ प्रणाली में बदलकर ‘5+3+3+4’ शिक्षा प्रणाली कर दिया गया है। एक बच्चे की शिक्षा के पहले पांच वर्षों में, उन्हें तीन साल की आंगनवाड़ी या केजी कक्षाएं और फिर कक्षा 1 और कक्षा 2 पूरी करनी होगी। इस परिवर्तन के कारण, उम्र की आवश्यकता बदल गई थी।

यह भी पढ़ें👉  Big breaking :-गढ़वाल DIG ने 1100 से ज्यादा कांस्टेबलो के कर दिए ट्रांसफर

25 मार्च को आएगी पहली लिस्ट

केंद्रीय विद्यालय संगठन के मुताबिक एडमिशन के लिए शॉर्टलिस्ट हुए बच्चों की पहली लिस्ट 25 मार्च को जारी की जाएगी और अगर सीटें खाली रहती हैं, तो दूसरी और तीसरी लिस्ट 1 और 8 अप्रैल को आधिकारिक वेबसाइट पर जारी की जाएगी

लेटेस्ट न्यूज़ अपडेट पाने के लिए -

👉 न्यूज़ हाइट के समाचार ग्रुप (WhatsApp) से जुड़ें

👉 न्यूज़ हाइट से टेलीग्राम (Telegram) पर जुड़ें

👉 न्यूज़ हाइट के फेसबुक पेज़ को लाइक करें

👉 गूगल न्यूज़ ऐप पर फॉलो करें


अपने क्षेत्र की ख़बरें पाने के लिए हमारी इन वैबसाइट्स से भी जुड़ें -

👉 www.thetruefact.com

👉 www.thekhabarnamaindia.com

👉 www.gairsainlive.com

Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.

To Top