UTTRAKHAND NEWS

Big breaking:-शिक्षा अधिकारियों की लापरवाही शिक्षा विभाग पर पड़ रही भारी , दो स्कूलों पर जुर्माना

उत्तराखंड में अटल उत्कृष्ट स्कूलों की सीबीएसई से मान्यता लेने की प्रक्रिया में शिक्षा अधिकारियों की लापरवाही शिक्षा विभाग पर भारी पड़ रही है। समय पर सीबीएसई में स्कूल का डाटा अपडेट न करने के कारण जहां दो स्कूलों पर 60 से 80 हजार रुपये का जुर्माना लगा है।

 

यह भी पढ़ें👉  Big breaking:-सीएम पुष्कर सिंह धामी पहुंचे सचिवालय स्थित आपदा कंट्रोल रूम , प्रदेश में भारी बारिश से हुए नुकसान की ली जानकारी , रामगढ़ में कई लोगो के हताहत होने की खबर

वहीं एक बार मान्यता निरस्त होने पर कुछ स्कूलों ने दूसरी बार भी सीबीएसई में शुल्क जमा करवा दिया। सरकार की सर्वोच्च प्राथमिकता की योजना में बरती जा रही लापरवाही पर सवाल उठ रहे हैं। इधर, महानिदेशक-शिक्षा बंशीधर तिवारी ने सीबीएसई के अध्यक्ष को पत्र भेजते हुए जुर्माने को माफ करने और दोहरे शुल्क की वापसी का अनुरोध किया है।
सरकार ने इस साल 189 स्कूलों को अटल उत्कृ़ष्ट स्कूलों के रूप में विकसित किया है।

 

यह भी पढ़ें👉  Big breaking:-सीएम धामी जुटे आपदा पीड़ितों के घावों में मरहम लगाने में , आज दिन भर आपदा प्रभावित इलाकों में सीएम का दौरा जानिए कितने बजे कहा पहुचेंगे सीएम

सूत्रों के अनुसार मान्यता मिलने के बाद एक तय समय के भीतर ओएससिस रिकार्ड भी भरना अनिवार्य होता है। लेकिन हरिद्वार के सिकरौड़ा स्थित अटल उत्कृष्ट जीआईसी और नैनीताल के अटल उत्कृष्ट जीजीआईसी ने समय पर रिकार्ड अपडेट नहीं किया। सीबीएसई ने इन पर 80 हजार और 60 हजार रुपये का जुर्माना ठोका है।

Ad
Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

To Top