UTTRAKHAND NEWS

Big breaking:-ज़ीका वायरस को लेकर उत्तराखंड में भी स्वास्थ्य विभाग द्वारा अलर्ट जारी

कानपुर में जीका वायरस के मामले बढ़ रहे हैं। जिसे देखते हुए अब उत्तराखंड में भी स्वास्थ्य विभाग द्वारा अलर्ट जारी कर दिया गया है। इसके तहत जीका और नोरोवायरस को लेकर अलर्ट जारी किया गया है। देहरादून से सभी अस्पतालों को अलर्ट पर रखा गया है। कानपुर में जीका संक्रमितों की संख्या 108 हो गई है और अभी तक प्रभावित क्षेत्रों से 116 मच्छरों के सैंपल जांच के लिए भेजे गए हैं।  केरल के कॉलेज के छात्रों का नई किस्म का वायरस मिला

 

 

 

देहरादून के मुख्य चिकित्सा अधिकारी (सीएमओ) डॉ. मनोज उप्रेती का कहना है कि शुक्रवार को ही केरल के किसी कॉलेज के छात्रों का नई किस्म के वायरस से बीमार होने का पता लगा है। जिसमें मरीज को पेट संबंधी परेशानियां हो रही हैं।देहरादून जिले के सभी अस्पतालों को अलर्ट जारी
वहीं, कानपुर में भी जीका वायरस के केस बढ़ रहे हैं। डॉ. मनोज उप्रेती ने कहा कि इन परिस्थितियों को देखते हुए देहरादून जिले के सभी अस्पतालों को अलर्ट जारी किया जा रहा है। बाहर से खासकर केरल और कानपुर आदि जगह से आने वाले मरीज जिनमें इस तरह के लक्षण दिखाई दें और वह ओपीडी में आते हैं तो ऐसे मरीजों का नाम, पता और मोबाइल नंबर जरूर नोट करवाने के लिए कहा गया है।

 

यह भी पढ़ें👉  Big breaking: शासन ने आईएएस दीपक रावत को बनाया कुमाऊँ कमिश्नर

 

 

ताकि ऐसे मरीजों की मॉनीटिरिंग की जाती रहे। साथ ही अगर उन्हें भर्ती करने की जरूरत पड़ती है तो उन्हें अस्पताल में भर्ती कर लिया जाए। आम जनमानस से भी सीएमओ ने अपील की है कि अगर किसी तरह का बुखार, सर्दी, खांसी, जुकाम, सांस लेने में दिक्कत और पेट में गड़बड़ी जैसे लक्षण हों तो बिना डॉक्टरी सलाह के कोई भी दवा न लें।

यह भी पढ़ें👉  Big breaking:-बेसिक के शिक्षकों की भर्ती प्रक्रिया में अब CBSE से मांग रहा उत्तराखंड शिक्षा विभाग ये जानकारी , कइयों के अटके हैं नियुक्ति पत्र

 

 

 

 

बिना डॉक्टर की सलाह के कोई दवा न लें
न ही बिना डॉक्टर की सलाह के दवा की दुकान से कोई दवा लें। विशेषज्ञ डॉक्टर को दिखाने और जरूरी जांचें कराने के बाद ही डॉक्टर की सलाह पर दवा लें।

यह भी पढ़ें👉  Big breaking:-हरदा के कैम्प फायर ने , साग, मक्की, मंडुवे के साथ चुनावी रणनीति का पारा चढ़ाया

 

 

 

 

किशोरी की जांच कराई, रिपोर्ट निगेटिव
जिला सर्विलांस अधिकारी डाॅ. राजीव दीक्षित ने बताया कि एक निजी अस्पताल में भर्ती 17 वर्षीय किशोरी में जीका से मिलते जुलते लक्षण मिले थे। चिकित्सकों की सलाह पर उसकी जांच कराई गई थी। सैपल दिल्ली भेजा गया था, जिसकी रिपोर्ट निगेटिव आई है। किशोरी को कोई ट्रेवल हिस्ट्री भी नहीं थी।

Ad
Ad

लेटेस्ट न्यूज़ अपडेट पाने के लिए -

👉 न्यूज़ हाइट के समाचार ग्रुप (WhatsApp) से जुड़ें

👉 न्यूज़ हाइट से टेलीग्राम (Telegram) पर जुड़ें

👉 न्यूज़ हाइट के फेसबुक पेज़ को लाइक करें


अपने क्षेत्र की ख़बरें पाने के लिए हमारी इन वैबसाइट्स से भी जुड़ें -

👉 www.thetruefact.com

👉 www.thekhabarnamaindia.com

👉 www.gairsainlive.com

Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

To Top