UTTRAKHAND NEWS

Big breaking :- सरकार की कोशिश ला रही रंग , प्राथमिक स्वास्थ्य केन्द्र बाराकोट चम्पावत में प्रसव की सुविधा आरम्भ

प्राथमिक स्वास्थ्य केन्द्र बाराकोट चम्पावत में प्रसव की सुविधा आरम्भ

 

स्वास्थ्य सेवाओं के अन्तर्गत राज्य के सुदूरवर्ती क्षेत्रों तक सरकारी अस्पतालों में प्रसव सुविधाओं को आरम्भ करने के लिये राष्ट्रीय स्वास्थ्य मिशन की पहल के सकारात्मक परिणाम आने लग गये है।

 

 

इस सम्बंध में जनपद चम्पावत के बाराकोट विकासखण्ड के प्राथमिक स्वा० केन्द्र में निशुल्कः प्रसव की सुविधा आरम्भ हो गई है। पहले दिन इस क्षेत्र के दम्पति श्रीमती हेमा पंत पत्नी श्री जगदीश चन्द्र पंत के परिवार में तीसरे शिशु ने सरकारी अस्पताल में जन्म लिया। प्रसव कराने वाले प्रभारी चिकित्साधिकारी डॉ० मंजीत सिंह तथा नर्सिंग ऑफिसर श्रीमती गीता रावत द्वारा सफलता पूर्वक प्रसव कराने पर क्षेत्रीय जनप्रतिनिधियों ने बधाई दी और प्रसन्नता व्यक्त की है।

यह भी पढ़ें👉  Big breaking :-प्रदेश के इन मदरसों मे होगी बड़ी कार्यवाई, मंत्री ने दिए संकेत

प्रसव सेवाओं का मजबूत बनाने के बारे में निदेशक एन०एच०एम डा० सरोज नैथानी ने बताया कि राज्य में स्थापित प्रसव प्रसव केन्द्रों हेतु वित्तीय वर्ष 2020-21 में स्टॉफ नर्सों की नियुक्ति संविदा के आधार पर किये जाने की स्वीकृति प्रदान की गई थी, जिस पर भारत सरकार की सहमति अनुसार प्रसव सेवाओं को आरम्भ किया जा रहा है। डा० नैथानी ने जानकारी दी कि प्रदेश में प्रसव केन्द्रों को सुदृढ किये जाने हेतु वित्तीय वर्ष 2022-24 में भी 75 नवीन संविदा स्टॉफ नर्सों को रखने की सैद्धांतिक स्वीकृति भारत सरकार से प्राप्त हो गयी है।

यह भी पढ़ें👉  Big breaking :-निर्वाचन आयोग ने uttrakhand की एक Rajyasabha सीट को लेकर चुनाव कार्यक्रम किया जारी

 

 

इस क्षेत्र के जन प्रतिनिधियो द्वारा प्राथमिक स्वास्थ्य केन्द्र बाराकोट में सामान्य प्रसव की सुविधा के आरम्भ होने पर संतोष व्यक्त किया और कहा कि अब जननी सुरक्षा योजना का लाभ भी ग्रामीण क्षेत्रों की गर्भवती महिलाओं को मिलने लगेगा। ज्ञातव्य है कि जननी सुरक्षा योजना के अन्तर्गत सरकारी अस्पताल में प्रसव हेतु 1400.00 रू0 की प्रोत्साहन राशि दी जाती है। इसके अतिरिक्त सरकारी अस्पताल में प्रसव कराने पर जननी शिशु सुरक्षा कार्यक्रम के अन्तर्गत निःशुल्क जॉच, भोजन, दवाईयां तथा प्रसव हेतु घर से लाने एंव प्रसव पश्चात 48 घण्टे तक चिकित्सालय मे रूकने वाली महिला को घर तक छोडने हेतु निःशुल्क वाहन की सुविधा दी जा रही है।

लेटेस्ट न्यूज़ अपडेट पाने के लिए -

👉 न्यूज़ हाइट के समाचार ग्रुप (WhatsApp) से जुड़ें

👉 न्यूज़ हाइट से टेलीग्राम (Telegram) पर जुड़ें

👉 न्यूज़ हाइट के फेसबुक पेज़ को लाइक करें

👉 गूगल न्यूज़ ऐप पर फॉलो करें


अपने क्षेत्र की ख़बरें पाने के लिए हमारी इन वैबसाइट्स से भी जुड़ें -

👉 www.thetruefact.com

👉 www.thekhabarnamaindia.com

👉 www.gairsainlive.com

Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.

To Top