UTTRAKHAND NEWS

Big breaking :-शिक्षा विभाग के नए फरमान से शिक्षक हैरान परेशान, जानिए क्या है मामला

वित्तीय वर्ष खत्म होने में दो दिन का वक्त ही बचा है और शिक्षा विभाग ने एक नया फरमान जारी कर दिया। सरकारी स्कूलों के पुस्तकालयों के लिए किताब खरीदने के लिए बजट जारी करते हुए तत्काल किताब खरीदने के आदेश दिए गए हैं। बेसिक, जूनियर हाईस्कूल और इंटर कालेज के लिए अलग अलग प्रकाशकों की 320 किताबें भी चिह्नित कर दी गई है।

 

यह भी पढ़ें👉  Big breaking :-DIT की अवंतिका शर्मा को दुनिया की शीर्ष बहुराष्ट्रीय कंपनियों में शुमार Amazon ने सालाना 1.25 Cr का पैकेज दिया

 

 

स्कूलों को आदेश दिए गए हैं कि बजट को उपयोग का इसी वित्तीय वर्ष में करना है और किताबें भी तय प्रकाशकों से ही खरीदी जानी है। शिक्षक परेशान हैं कि दो दिन के वक्त में कैसे किताबें खरीदी जाएंगी? और यदि खरीदे भी तो भला तय प्रकाशकों की किताबों को कहां तलाश जाए?

 

 

 

राज्य परियोजना निदेशक समग्र शिक्षा अभियान बंशीधर तिवारी ने मंगलवार को सभी सीईओ को किताब खरीने के लिए गाइड लाइन जारी की कक्षा एक से पांच के लिए 120, छठी से आठवीं तक की कक्षाओं के लिए 100 किताब और कक्षा नौ से 12 वीं तक के लिए भी 100 किताबें तय की गई हैं।

यह भी पढ़ें👉  Big breaking :-उत्तरकाशी -बड़कोट, में खाई में गिरा वाहन, एसडीआरएफ उत्तराखंड पुलिस ने रात्रि में किया रेस्क्यू, 3 की मौत

 

 

 

 

सूत्रों के अनुसार प्राइमरी स्कूल को पांच हजार, छठी से आठवीं तक के जूनियर स्कूल को 13 हजार, नवीं से 10 तक के स्कूल के लिए 15 हजार और इंटरमीडिएट स्कूल 20 हजार रुपये दिए जाते हैं। एक वरिष्ठ अधिकारी ने बताया कि केंद्र सरकार से पुस्तकालय में मद में धन काफी विलंब से मिला है। इस वजह से बजट जारी करने में देरी हुई है।

लेटेस्ट न्यूज़ अपडेट पाने के लिए -

👉 न्यूज़ हाइट के समाचार ग्रुप (WhatsApp) से जुड़ें

👉 न्यूज़ हाइट से टेलीग्राम (Telegram) पर जुड़ें

👉 न्यूज़ हाइट के फेसबुक पेज़ को लाइक करें

👉 गूगल न्यूज़ ऐप पर फॉलो करें


अपने क्षेत्र की ख़बरें पाने के लिए हमारी इन वैबसाइट्स से भी जुड़ें -

👉 www.thetruefact.com

👉 www.thekhabarnamaindia.com

👉 www.gairsainlive.com

Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.

To Top