UTTRAKHAND NEWS

Big breaking:-सुबह सुबह भूकंप के झटकों से डोली पहाड़ की धरती , यहाँ रहा केंद्र

चमोली। चमोली जिले में भूकंप के तेज झटके महसूस किए गए हैं। सहमे हुए लोग जोशीमठ में भी लोग घरों से बाहर निकले।
सुबह 5 बजकर58 मिनट पर आए भूकंप के झटकों के बाद एक बार फिर वर्ष 1999 के चमोली भूकंप की याद ताजा हो

गईजोशीमठ में भी भूकंप के झटके महसूस हुए, भूकंप से हुए नुकसान की अभी जानकारी नहीं मिली लेकिन इन दिनों भारी बारिश, भूस्खलन व चट्टान टूटने की घटनाओं से लोग पहले ही सहमे हुए हैं, अब भूकंप के झटकों ने लोगों को दहशत में ला दिया।

 

यह भी पढ़ें👉  Big breaking:-DGP उत्तराखंड पहुँचे केदारनाथ में , केदारनाथ में नियुक्त तमाम पुलिस बल को किया ब्रीफ

चमोली पुलिस हरकत में

*भूकम्प आने पर क्या करें, और क्या न करें*
————————————————————————————–
1-भूकम्प आने पर फौरन घर, स्कूल या दफ्तर से निकलकर खुले स्थान या मैदान में जायें।
2-बडी बिल्डिंग, पेडों, बिजली के खम्बों आदि से दूर रहें।
3- कई फंस गये हो तो दौडे नही। इससे भूकम्प का ज्यादा असर होगा।
4- भूकम्प आने पर खिडकी अलमारी, फंखे एंव उपर रखे भारी सामान से दूर हट जायें। ताकि इनके गिरने और शीशे टूटने से चोट न लगें।
5- अगर आप बाहर नही निकल पाते तो टेबल, बेड, डेस्क जैसे मजबूत फर्नीचर के नीचे घुस जाएं, और उसके पाया को कसकर पकड लें, ताकि झटको से वह खिसके नही।
6- कोई मजबूत चीज न हो तो किसी मजबूत दीवार से सटकर शरीर के नाजुक हिस्से जैसे सिर, हाथ आदि को मोटी किताब या किसी मजबूत चीज से ढककर घुटनों के बल टेक लगाकर बैठ जाएं।
7-खुलते बन्द होते दरवाजे के पास खडे न हो वरना चोट लग सकती है।
8-गाडी में हैं तो बिल्डिंग, होर्डिंग्स, खम्बों, फ्लाई-ओवर, पुल आदि से दूर सडक के किनारे या खुले में गाडी रोक लें, और भूकम्प रूकने तक इंतजार करें।
9- बाहर जाने के लिए लिफ्ट की बजाय सीडिंयों का इस्तेमाल करें।
10-भूकम्प के सम्बन्ध में किसी प्रकार की अफवाहों से बचें।

Ad
Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

To Top