UTTRAKHAND NEWS

Big breaking:-प्राचीन त्रिजुगीनारायण पहुंचे पूर्व सीएम त्रिवेन्द्र, देवस्थानम बोर्ड पर मंदिर समिति एवं ग्रमीणों ने जताई प्रसन्नता , देवस्थानम बोर्ड अब तक का सबसे बड़ा सुधारात्मक कदम:त्रिवेन्द्र

*- प्राचीन त्रिजुगीनारायण पहुंचे पूर्व सीएम त्रिवेन्द्र, देवस्थानम बोर्ड पर मंदिर समिति एवं ग्रमीणों ने जताई प्रसन्नता*

*- देवस्थानम बोर्ड अब तक का सबसे बड़ा सुधारात्मक कदम:त्रिवेन्द्र*

*-आज जो देवस्थानम बोर्ड का विरोध कर रहे हैं, कुछ वर्षों बाद यही लोग इसकी तारीफ करेंगे: त्रिवेन्द्र*

पूर्व मुख्यमंत्री श्री त्रिवेन्द्र सिंह रावत सोनप्रयाग के निकट प्राचीन त्रिजुगीनारायण मंदिर पहुंचे। जहां ग्रामीणों ने उनका जोरदार स्वागत किया। मंदिर के निकट ही गांव है जिसमें 250 के लगभग ग्रामीण लोग रहते हैं। देवस्थानम बोर्ड में त्रिजुगीनारायण मंदिर को सम्मिलित किये जाने से मंदिर के समस्त पुजारी एवं उनके परिजनों ने बहुत ही प्रसन्नता जाहिर की। पूर्व सीएम त्रिवेन्द्र ने कहा कि देवस्थानम बोर्ड अब तक का सबसे बड़ा सुधारात्मक कदम। आज भले ही कुछ लोग जानबूझकर इसका विरोध कर रहे हो लेकिन आने वाले 10 साल बाद सभी को इसकी अहमियत पता लगेगी, और यही लोग आगे आकर इसका समर्थन करेंगे, इसकी तारीफ करेंगे।

यह भी पढ़ें👉  Big breaking:-नैनीताल जिले में चुनाव से पहले बीजेपी संगठन की बड़ी कार्यवाही , पार्टी विरोधी गतिविधियों में लिप्त 6 नेता पार्टी से निष्कासित

उन्होंने कहा कि सरकार का काम अपने अतिथियों को सुविधाएं देना होता है। अतिथि देवो भव: को सर्वोपरि मानते हुए ही देवस्थानम की नींव रखी गई। ताकि यहां से जाने के बाद यात्री यहां की व्यवस्थाओं का गुणगान हर जगह करें और देवभूमि में तीर्थ यात्रियों का आना जाना लगा रहे इसी उद्देश्य को लेकर की इसका गठन किया गया।

यह भी पढ़ें👉  Big breaking:-राजधानी देहरादून में यहाँ चल गई गोली , मचा हड़कंप

आपको बता दें कि सोनप्रयाग के निकट ही प्राचीन त्रिजुगीनारायण मंदिर में शिव-पार्वती का विवाह संपन्न हुआ था। प्राचीन काल से ही यहां अखंड धुनी जलती रहती है। इसका शिल्प भी श्रीकेदारनाथ जी की ही तरह कत्यूरी शैली का है। मंदिर के निकट ही गांव है जिसमें 250 के लगभग ग्रामीण लोग रहते हैं।

ग्राम प्रधान प्रियंका तिवारी, सामाजिक कार्यकर्ता आशीष गैरोला आदि ने पुष्पमालाएं पहनाईं। मार्ग से गुजरते समय लगभग 200 पुरुष, महिला, बच्चों ने मिलकर पुष्प वर्षा की। मंदिर परिसर में मुख्य पुजारी सूरज मोहन सेमवाल एवं अन्य पुजारियों ने पूर्व सीएम त्रिवेंद्र सिंह रावत को पुष्पमाला पहनाई। पुजारी ने पूरे विधि विधान के साथ पूजा अर्चना कराई। मंदिर समिति एवं ग्रामीणों का कहना था कि देवस्थानम बोर्ड में जुड़ने से मंदिर में तीर्थयात्रियों की संख्या बहुत बढ़ेगी। इससे पूरे गाँव की आय बढ़ेगी।

यह भी पढ़ें👉  Big breaking:-राष्ट्रपति की वीआईपी ड्यूटी पर आए 19 पुलिस कर्मियों और कर्मचारियों के कोरोना पॉजिटिव मिलने से पुलिस और प्रशासन में हड़कंप , सभी आइसोलेट

मंदिर एवं गांव में अनेक आधारभूत सुविधाएं उपलब्ध होंगी जिससे यात्रियों को भी लाभ होगा।

Ad
Ad

लेटेस्ट न्यूज़ अपडेट पाने के लिए -

👉 न्यूज़ हाइट के समाचार ग्रुप (WhatsApp) से जुड़ें

👉 न्यूज़ हाइट से टेलीग्राम (Telegram) पर जुड़ें

👉 न्यूज़ हाइट के फेसबुक पेज़ को लाइक करें


अपने क्षेत्र की ख़बरें पाने के लिए हमारी इन वैबसाइट्स से भी जुड़ें -

👉 www.thetruefact.com

👉 www.thekhabarnamaindia.com

👉 www.gairsainlive.com

Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

To Top