UTTRAKHAND NEWS

Big breaking:-मंहगाई और बेरोजगारी चुनाव में बनेंगे बड़े मुद्दे , आंकड़े तो यही कहते हैं लेकिन जनता को क्या मुद्दे ही मिलेगे या राहत भी मिल पाएगी

इस साल की पहली तिमाही में उत्तराखंड में महंगाई देश में 10वें स्थान पर है। राष्ट्रीय सांख्यिकीय कार्यालय (एनएसओ) के आंकड़े इस तथ्य की तस्दीक कर रहे हैं। 2020 के सर्वे के आंकड़ों के मुताबिक, शहरी बेरोजगारी के मामले में उत्तराखंड का 10वां स्थान था। इन दोनों मुद्दों पर प्रदेश की सियासत गरमाई हुई है।राज्य में वर्ष 2022 में विधानसभा चुनाव हैं और कांग्रेस समेत सभी विपक्षी दलों ने बेरोजगारी और महंगाई को सत्तारूढ़ भाजपा के खिलाफ मुख्य चुनावी हथियार बनाया हुआ है।

राष्ट्रीय सांख्यिकीय कार्यालय (एनएसओ) ने हाल ही में पहली तिमाही में महंगाई दर के आंकड़े जारी किए हैं। उत्तराखंड राज्य में महंगाई की दर 5.38 प्रतिशत के साथ देश में 10वें स्थान पर है। हिमाचल (6.99), जम्मू कश्मीर (7.65) आंध्रप्रदेश 7.16,  हरियाणा (5.75), पंजाब (5.87), तमिलनाडु (6.22), तेलंगाना (7.92), कर्नाटक (6.91), मध्य प्रदेश (6.37 प्रतिशत) राज्यों में उत्तराखंड से अधिक महंगाई रही। अगस्त 2020 में राज्य में महंगाई सूचकांक 152.5 था, जो अगस्त 21 में 160.7 रहा।
आंकड़ों ने दिया राज्य में बेरोजगारी बढ़ने का संकेत

राष्ट्रीय सांख्यिकीय कार्यालय ने पिछले दिनों वर्ष 2020 के बेरोजगारी की दर के आंकड़े जारी किए। जारी आंकड़े उत्तराखंड में बेरोजगारी बढ़ने के संकेत दे रहे हैं। रिपोर्ट के मुताबिक, कोरोनाकाल में अप्रैल से जून 2020 में 26.8 फीसदी लोगों के रोजगार छिने।

यह भी पढ़ें👉  Big breaking:-देवस्थनम बोर्ड को लेकर उच्च स्तरीय कमेटी की फाइनल रिपोर्ट सीएम को सौपी गई , जल्द फैसला

जुलाई से सितंबर में अनलॉक के हालात बनें तो बेरोजगारी दर घटकर 10.9 फीसदी रही। लेकिन इसके बाद अक्टूबर 2020 में यह बढ़कर 11.6 प्रतिशत हो गई। 2019 की तुलना में 2020 में बेरोजगारी 2.3 प्रतिशत बढ़ गई। 22 राज्यों के सर्वे के आंकड़ों के आधार पर रिपोर्ट बता रही है कि बेरोजगारी दर में उत्तराखंड देश में नौवें स्थान पर था।

यह भी पढ़ें👉  Big breaking:-उत्तराखंड के टिहरी जिले से बड़ी खबर है, यहां दो दिन से लापता ड्राइवर का यहाँ मिला शव

महंगाई और बेरोजगारी बने बड़े हथियार
इसलिए महंगाई और बेरोजगारी विपक्षी पार्टियों के लिए बड़े चुनावी हथियार बन गए हैं। कांग्रेस और आम आदमी पार्टी ने इन दोनों मुद्दों को लेकर प्रदेश सत्तारूढ़ भाजपा पर हमले बोलने शुरू कर दिए हैं। कांग्रेस ने रोजगार दो अभियान छेड़ दिया है। उधर, आम आदमी पार्टी भी दोनों मुद्दों पर आक्रामक है।

यह भी पढ़ें👉  Big breaking:-नैनीताल जिले में चुनाव से पहले बीजेपी संगठन की बड़ी कार्यवाही , पार्टी विरोधी गतिविधियों में लिप्त 6 नेता पार्टी से निष्कासित

 

Ad
Ad

लेटेस्ट न्यूज़ अपडेट पाने के लिए -

👉 न्यूज़ हाइट के समाचार ग्रुप (WhatsApp) से जुड़ें

👉 न्यूज़ हाइट से टेलीग्राम (Telegram) पर जुड़ें

👉 न्यूज़ हाइट के फेसबुक पेज़ को लाइक करें


अपने क्षेत्र की ख़बरें पाने के लिए हमारी इन वैबसाइट्स से भी जुड़ें -

👉 www.thetruefact.com

👉 www.thekhabarnamaindia.com

👉 www.gairsainlive.com

Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

To Top