DEHRADUN NEWS

Big breaking:-सहसपुर विधानसभा में कांग्रेस के टिकट को लेकर आर्येंद्र शर्मा का कांग्रेस प्रदेश कार्यलय में खुला विरोध

सहसपुर विधानसभा में कांग्रेस के टिकट को लेकर आर्येंद्र शर्मा का कांग्रेस प्रदेश कार्यलय में खुला विरोध, बाहरी नहीं स्थानीय प्रत्याशी की हो रही मांग
बताते चलें सोमवार शाम को सहसपुर विधानसभा के तमाम कांग्रेस कार्यकर्ता तरह तरह के स्लोगन लेकर कांग्रेस के प्रदेश कार्यलय देहरादून में मोमबत्ती जलाकर विरोध में जम‌ गये जिससे एक बार फिर कांग्रेस प्रदेश कार्यलय चर्चा में आ गया।

 

 

 

 

दरअसल कांग्रेस प्रदेश कार्यलय राजीव भवन में उस वक़्त हलचल तेज हो गयी जब यहां सहसपुर के पूर्व ब्लाक अध्यक्ष गुलफाम जान के अगुवाई में युवाओं ने राजीव गांधी की प्रतिमा के आगे कैंडिल जलाकर अपना विरोध जताया। अब भला कार्यकर्ता चुनाव के ऐलान के बाद अपना खुला समर्थन और विरोध अब नहीं दिखायेंगे तो कब दिखायेंगे तो इसी क्रम में युवा कार्यकर्ताओं ने दो मिनट का मौन रखा। इन युवा कार्यकर्ताओं के हाथ हाथ में स्लोगन थे जिसमें लिखा है ‘राजीव जी हम शर्मिन्दा है आपको अपमानित करने वाले आज पार्टी में सम्मानित है, महत्वपूर्ण पदो पर काबिज़ हैं हमें क्षमा करें।

 

यह भी पढ़ें👉  Big breaking:-Bjp के लिए नाराज फूफा साबित हो रहे हरक, हमेशा बोलते हैं "हम से किसीने पूछा ही नहीं, बोला ही नहीं"

 

 

पूर्व ब्लाक अध्यक्ष गुलफाम जान ने इस दौरान कहा कि कांग्रेस के कार्यकर्ता ऐसे किसी व्यक्ति को पार्टी में बर्दाश्त नहीं करेंगे जिन्होंने‌ पूर्व में अपना टिकट कटने पर कांग्रेस भवन में तोड़ फोड़ कर पूर्व पीएम राजीव गांधी का अपमान किया हो। तत्कालीन कांग्रेस अध्यक्ष के खिलाफ बयानबाजी की और उन्हें चुनाव हराने में अपनी भूमिका निभाई हो। उन्होंने कहा कि ऐसा व्यक्ति अब कांग्रेस में आकर टिकट की दावेदारी कर रहा है। उन्होंने कहा कि कांग्रेस का समर्पित कार्यकर्ता इसका विरोध करता है। इसके लिए वे पीसीसी अध्यक्ष गणेश गोदियाल, नेता प्रतिपक्ष प्रीतम सिंह और चुनाव अभियान समिति के अध्यक्ष हरीश रावत के सामने अपनी बात रखेंगे। उन्होंने कहा कि जिस व्यक्ति ने हमारे नेता राजीव गांधी का अपमान किया उसके खिलाफ हम पैदल मार्च कर दिल्ली जाकर राहुल गांधी के समक्ष अपनी बात रखेंगे। अब आपको बता दें ये सारा मामला सहसपुर विधान सभा का है जहां कांग्रेस का एक धड़ा स्थानीय प्रत्याशी को चुनाव मैदान में उतारने की पुरजोर कोशिश कर रहा है। वहीं यहां से कांग्रेस के प्रदेश उपाध्यक्ष आयेन्द्र शर्मा भी दावेदारी कर रहे हैं।

यह भी पढ़ें👉  Big breaking:-सहसपुर विधानसभा में बीजेपी के वर्तमान विधायक को लेकर जनता दे रही रेड अलर्ट , लेकिन बीजेपी संगठन का वो कौन है जो पार्टी की आखों में धूल झोंक रहा , कही दाल में कुछ काला तो नहीं

 

 

 

 

आर्येन्द्र शर्मा के समर्थकों ने साल 2017 में सहसपुर से टिकट काटे जाने पर कांग्रेस भवन में उपद्रव किया था उस दौरान उन्होंने पार्टी से बगावत कर निर्दलीय उम्मीदवार के तौर पर चुनाव लड़ा। गौरतलब है कि साल 2017 में तत्कालीन प्रदेश अध्यक्ष किशोर उपाध्याय को कांग्रेस ने सहसपुर से चुनाव मैदान में उतारा था लेकिन उन्हें यहां हार का सामना करना पड़ा था। किशोर की इस हार के लिए ये कार्यकर्ता आयेन्द्र शर्मा की बगावत को जिम्मेदार मानते हैं।

लेटेस्ट न्यूज़ अपडेट पाने के लिए -

👉 न्यूज़ हाइट के समाचार ग्रुप (WhatsApp) से जुड़ें

👉 न्यूज़ हाइट से टेलीग्राम (Telegram) पर जुड़ें

👉 न्यूज़ हाइट के फेसबुक पेज़ को लाइक करें


अपने क्षेत्र की ख़बरें पाने के लिए हमारी इन वैबसाइट्स से भी जुड़ें -

👉 www.thetruefact.com

👉 www.thekhabarnamaindia.com

👉 www.gairsainlive.com

Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

To Top