UTTRAKHAND NEWS

Big breaking :-चार धाम यात्रा रूट के अस्पतालों में बढ़ेगी सुविधाएंः डॉ0 धन सिंह रावत, ईसीजी सुविधा एवं चिकित्सकों की व्यवस्था देखेंगे सीएमओ

 

*चार धाम यात्रा रूट के अस्पतालों में बढ़ेगी सुविधाएंः डॉ0 धन सिंह रावत*

*ईसीजी सुविधा एवं चिकित्सकों की व्यवस्था देखेंगे सीएमओ*

*जिला अस्पतालों में होगी डेश-बोर्ड की स्थापना, लगेंगे सीसीटीवी कैमरे*

*104 हेल्प लाइन से जोड़ी जायेगी टेली कंसल्टेशन चिकित्सा सुविधा*

देहरादून, 26 अप्रैल 2022

प्रदेश में अगले माह से शुरू होने वाली चार धाम यात्रा को देखते हुये स्वास्थ्य विभाग ने अपनी तैयारियां शुरू कर दी है। जिसके तहत यात्रा मार्गों पर पड़ने वाले अस्पतालों को और सुविधा सम्पन्न बनाया जायेगा। इन अस्पतालों में ईसीजी सुविधा के साथ ही विशेषज्ञ चिकित्सकों की व्यवस्था भी की जायेगी। जिला अस्पतालों को स्वास्थ्य मंत्रालय एवं महानिदेशालय से जोड़ने के लिए डेश-बोर्ड की स्थापना की जायेगी, सभी जिला अस्पतालों को सीसीटीवी कैमरे की निगरानी में रखा जायेगा। कोविड-19 के बढ़ते प्रकोप को देखते हुये सभी मुख्य चिकित्साधिकारियों को अलर्ट रहने को कहा गया।

यह भी पढ़ें👉  Big breaking :-क्या बात शिक्षा मंत्री के गृह जनपद में क्यों काम नहीं करना चाहते शिक्षा विभाग के अधिकारी

चिकित्सा स्वास्थ्य एवं चिकित्सा शिक्षा मंत्री डॉ0 धन सिंह रावत ने आज स्वास्थ्य महानिदेशालय में विभाग की समीक्षा बैठक ली। जिसमें अधिकारियों को चार धाम यात्रा रूट पर पड़ने वाले अस्पतालों में सुविधाएं बढ़ाने के साथ ही ईसीजी एवं विशेषज्ञ चिकित्सकों की व्यवस्था करने के निर्देश दिये। उन्होंने कहा कि चार धाम यात्रा के दौरान यात्रियों को बेहत्तर चिकित्सकीय सुविधा देने की जिम्मेदारी संबंधित सीएमओ की होगी। प्रदेशभर के जिला अस्पतालों को सीधे स्वास्थ्य मंत्रालय व स्वास्थ्य महानिदेशालय से जोड़ने के उद्देश्य से प्रत्येक जिला अस्पताल में डैश-बोर्ड की स्थापना के निर्देश अधिकारियों को दिये गये। ताकि जिला अस्पतालों की गतिविधियों पर उच्च स्तर से भी निगरानी रखी जा सके। इसके अलावा जिला अस्पतालों की कार्यप्रणाली एवं अन्य सुविधाओं की निगरानी के लिए सीसीटीबी कैमरे लगाने का निर्णय बैठक में लिया गया। स्वास्थ्य मंत्री ने कहा कि जिला अस्पतालों की ओपीडी एवं ईपीडी के आधार पर रैकिंग की जायेगी। स्वास्थ्य सेवाओं के प्रचार-प्रसार को व्यापक एवं प्रभावी बनाने के लिए विभाग के आईईसी सेल को अपग्रेड करने के निर्देश दिये गये। कोविड-19 के बढ़ते आंकड़ों को देखते हुये सभी मुख्य चिकित्साधिकारियों को अलर्ट रहने के साथ ही इस महामारी से निपटने के लिए पूरी तैयारी रखने को कहा गया है। इसके अलावा प्रदेश के दूर-दराज के क्षेत्रों में रह रहे लोगों को बेहत्तर टेली चिकित्सा सुविधा मुहैया कराने के उद्देश्य से टेली मेडिसिन सेवा को 104 हेल्प लाइन नम्बर से जोड़ने के निर्देश विभागीय अधिकारियों को दिये गये।

यह भी पढ़ें👉  Big breaking :-निर्वाचन आयोग ने uttrakhand की एक Rajyasabha सीट को लेकर चुनाव कार्यक्रम किया जारी

बैठक में सचिव स्वास्थ्य राधिका झा, उत्तराखंड स्वास्थ्य प्राधिकरण के चेयरमैन डी.के. कोटिया, मिशन निदेशक एनएचएम सोनिका, महानिदेशक चिकित्सा शिक्षा आशीष श्रीवास्तव, उत्तराखंड चिकित्सा सेवा चयन आयोग के चेयरमैन डॉ. डी.एस. रावत, कुलपति उत्तराखंड मेडिकल विश्वविद्यालय प्रो0 हेमचन्द्र, निदेशक स्वास्थ्य डॉ0 शैलजा भट्ट, डॉ0 विनीता शाह, मीतू शाह, निदेशक एनएचएम डॉ0 सरोज नैथानी, अपर सचिव चिकित्सा शिक्षा गरिमा रौंकली सहित शासन एवं विभागीय अधिकारियों के अलावा वर्चुअल माध्यम से सभी जनपदों के सीएमओ उपस्थित रहे।

यह भी पढ़ें👉  Big breaking :-Uttarakhand DElEd Exam 2022: उत्तराखंड में आज डीएलएड प्रवेश परीक्षा, सुबह 10 से 12.30 बजे तक होगी परीक्षा

 

लेटेस्ट न्यूज़ अपडेट पाने के लिए -

👉 न्यूज़ हाइट के समाचार ग्रुप (WhatsApp) से जुड़ें

👉 न्यूज़ हाइट से टेलीग्राम (Telegram) पर जुड़ें

👉 न्यूज़ हाइट के फेसबुक पेज़ को लाइक करें

👉 गूगल न्यूज़ ऐप पर फॉलो करें


अपने क्षेत्र की ख़बरें पाने के लिए हमारी इन वैबसाइट्स से भी जुड़ें -

👉 www.thetruefact.com

👉 www.thekhabarnamaindia.com

👉 www.gairsainlive.com

Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.

To Top