UTTRAKHAND NEWS

Big breaking :-बोनस तो मिला, डीए की कामना अधूरी, सीएम धामी के फैसले पर लगी करीब तीन लाख कर्मचारियों की नजर

बोनस तो मिला, डीए की कामना अधूरी, सीएम धामी के फैसले पर लगी करीब तीन लाख कर्मचारियों की नजर प्रदेश मंत्रिमंडल की बैठक में कर्मचारियों को चार फीसदी डीए और दिवाली बोनस पर सहमति बन गई थी और इस पर मुख्यमंत्री को फैसला लेने के लिए अधिकृत किया गया था। मुख्यमंत्री ने बोनस को तो मंजूरी दे दी, लेकिन अभी डीए को लेकर उन्होंने कोई निर्णय नहीं लिया है।

 

 

प्रदेश के करीब तीन लाख कर्मचारियों की महंगाई भत्ते (डीए) की मुराद पूरी नहीं हो पाई है। हालांकि मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी करीब डेढ़ लाख कर्मचारियों को दीपावली बोनस की सौगात दे चुके हैं, लेकिन अभी उन्होंने डीए पर फैसला नहीं लिया है। हालांकि कर्मचारियों ने दिवाली से पहले डीए मिलने की अब भी उम्मीद नहीं छोड़ी है।राज्य कर्मचारी संयुक्त परिषद के प्रदेश अध्यक्ष अरुण पांडेय का कहना है कि सभी कर्मचारी दिवाली से पहले डीए मिलने की उम्मीद कर रहे हैं। उनकी उम्मीद खत्म हो गई हैं । हालांकि डीए जारी न होने से कर्मचारियों में थोड़ी मायूसी जरूर है। बता दें कि, प्रदेश मंत्रिमंडल की बैठक में कर्मचारियों को चार फीसदी डीए और दिवाली बोनस पर सहमति बन गई थी और इस पर मुख्यमंत्री को फैसला लेने के लिए अधिकृत किया गया था।

 

मुख्यमंत्री ने बोनस को तो मंजूरी दे दी, लेकिन अभी डीए को लेकर उन्होंने कोई निर्णय नहीं लिया है।वित्त विभाग के सूत्रों के मुताबिक, डीए का प्रस्ताव भी अपर मुख्य सचिव वित्त के माध्यम से मुख्यमंत्री को अनुमोदन के लिए भेज दिया गया है। मुख्यमंत्री प्रस्ताव पर कभी भी निर्णय ले सकते हैं। चार फीसदी डीए में बढ़ोतरी से राजकोष पर प्रतिमाह 48 करोड़ रुपये के खर्च का अनुमान लगाया गया है।

लेटेस्ट न्यूज़ अपडेट पाने के लिए -

👉 न्यूज़ हाइट के समाचार ग्रुप (WhatsApp) से जुड़ें

👉 न्यूज़ हाइट से टेलीग्राम (Telegram) पर जुड़ें

👉 न्यूज़ हाइट के फेसबुक पेज़ को लाइक करें

👉 गूगल न्यूज़ ऐप पर फॉलो करें


अपने क्षेत्र की ख़बरें पाने के लिए हमारी इन वैबसाइट्स से भी जुड़ें -

👉 www.thetruefact.com

👉 www.thekhabarnamaindia.com

👉 www.gairsainlive.com

Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.

To Top