UTTRAKHAND NEWS

Big breaking :-उत्तराखंड में सीएम को लेकर बड़ी खबर, बीजेपी हाईकमान ने अचानक बंशीधर भगत को बुलाया दिल्ली

उत्तराखंड में सीएम को लेकर बड़ी खबर, बीजेपी हाईकमान ने अचानक बंशीधर भगत को बुलाया दिल्ली

 

चुनाव परिणाम आने के बाद से भाजपा द्वारा जीते गए राज्यों में सीएम तय होने की कवायद शुरू हो गई थी। तीन राज्यों में नाम तय हो चुके हैं। उत्तराखंड में सीएम के चुनाव हारने से तय नहीं हो पाया है। पर अब कवायद निर्णायक मोड़ पर है।उत्तराखंड में सीएम पद को लेकर कवायद तेजी से चल रही है। भाजपा नेतृत्व ने बुधवार को अचानक कालाढूंगी विधायक बंशीधर भगत को दिल्ली बुला लिया है। उनके दिल्ली रवाना होने से ही सियासी हलकों में अटकलों का दौर शुरू हो गया।

 

यह भी पढ़ें👉  Big breaking :-Chardham Yatra 2022: चारधाम में हृदयाघात से दस श्रद्धालुओं की मौत, अब तक 92 श्रद्धालु तोड़ चुके दम

 

 

 

सियासी गलियारे में पहले ही 80 के दशक वाले विधायक को सीएम बनाए जाने की बात चल रही थी। अब अचानक भगत को दिल्ली बनाए जाने से इसे और बल मिल रहा है। उनके प्रोटेम स्पीकर बनने के बाद से ही उनके कद को लेकर तमाम तरह की सियासी चर्चाएं शुरू होने लगी थी।विधानसभा चुनाव-2022 में भाजपा ने 47 सीटें जीती हैं। अब सरकार गठन की तैयारी चल रही है। भाजपा ने खटीमा विधायक व सीएम पुष्कर सिंह धामी के चेहरे पर चुनाव लड़ा था, लेकिन वह अपनी सीट से हार गए। तब से ही नए सीएम को लेकर तमाम तरह की अटकलें लग रही हैं।धामी को फिर से सीएम बनाए जाने की चर्चा भी जोरशोर से चल रही है।

यह भी पढ़ें👉  Big breaking :-जिन्होंने कोरोना में बचाई लोगो की जान , आज अपना हक पाने के लिए खून से लिखनी पड़ रही चिट्ठी, सुध लो सरकार

 

 

 

 

इसके अलावा सीएम पद को लेकर तमाम अन्य वरिष्ठ नेताओं के नाम भी उछल रहे हैं। वैसे भी सीएम पद को लेकर भाजपा में हमेशा चौंकाने वाला निर्णय देखा गया है। इस समय होली के चलते विधानमंडल की बैठक नहीं हो सकी है। इसलिए अधिकांश विधायक अपने क्षेत्रों में होली मनाने निकल गए हैं।कालाढूंगी विधायक बंशीधर भगत भी प्रोटेम स्पीकर बनने के बाद अपने क्षेत्र में आ गए थे, लेकिन बुधवार को उन्हें अचानक दिल्ली बुला लिया गया है। जबकि वह अपने क्षेत्र में होली आयोजनों में व्यस्त थे। भगत शाम चार बजे दिल्ली के लिए रवाना हो गए।

यह भी पढ़ें👉  Big breaking :-DGP ने दिए निर्देश, तोSSP ऊधमसिंहनगर मंजूनाथ ने जांच के दिए आदेश।

 

 

 

 

जैसे ही वह दिल्ली को रवाना हुए। प्रदेश भर के सियासी हलकों में अटकलों का बाजार गर्म हो गया। चर्चा उनके सीएम बनाए जाने को लेकर भी उठने लगी है। जब इस संबंध में भगत से बात की तो उन्होंने दिल्ली जाने की बात स्वीकार की, लेकिन इसका कारण निजी काम बताया

लेटेस्ट न्यूज़ अपडेट पाने के लिए -

👉 न्यूज़ हाइट के समाचार ग्रुप (WhatsApp) से जुड़ें

👉 न्यूज़ हाइट से टेलीग्राम (Telegram) पर जुड़ें

👉 न्यूज़ हाइट के फेसबुक पेज़ को लाइक करें

👉 गूगल न्यूज़ ऐप पर फॉलो करें


अपने क्षेत्र की ख़बरें पाने के लिए हमारी इन वैबसाइट्स से भी जुड़ें -

👉 www.thetruefact.com

👉 www.thekhabarnamaindia.com

👉 www.gairsainlive.com

Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.

To Top