UTTRAKHAND NEWS

Big breaking:-पीएम मोदी के केदारनाथ आने से पहले ही फिर भड़कने लगा देवस्थानम बोर्ड का विरोध , 3 नवंबर को केदारनाथ कूच

देवस्थानम बोर्ड को भंग करने की मांग को लेकर चारधाम तीर्थ पुरोहित हक-हकूकधारी महापंचायत समिति ने सभी तीर्थपुरोहित व हक-हकूकधारियों से 3 नवंबर को केदारनाथ कूच का आह्वान किया है। उन्होंने प्रदेश सरकार पर मांग को अनसुना करने का आरोप भी लगाया है।

 

 

 

समिति के अध्यक्ष कृष्णकांत कोटियाल, महामंत्री हरीश डिमरी व कोषाध्यक्ष लक्ष्मी नारायण जुगराण का कहना है कि दो साल से चारधाम में देवस्थानम बोर्ड का विरोध हो रहा है। तीर्थपुरोहित व हक-हकूकधारी चरणबद्ध आंदोलन करते आ रहे हैं। इस दौरान कई बार शासन, प्रशासन से वार्ता भी हो चुकी है।पूर्व सीएम तीरथ सिंह रावत व वर्तमान सीएम पुष्कर सिंह धामी ने उचित कार्रवाई का आश्वासन भी दिया था लेकिन अब तक इस दिशा में कोई कार्रवाई नहीं होने से तीर्थपुरोहित व हक-हकूकधारी क्षुब्ध हैं। उन्होंने प्रदेश सरकार पर जायज मांग की अनदेखी का आरोप लगाते हुए कहा कि जब तक देवस्थानम बोर्ड को भंग नहीं किया जाता, केदारनाथ में आंदोलन जारी रहेगा।

 

यह भी पढ़ें👉  Big breaking:-सीएम पहुँचे परेड ग्राउंड , लिया पीएम की रैली की तैयारियों का जायजा , जानिए कितने हज़ार करोड़ की योजनाओं का तोहफा देंगे पीएम

 

 

इधर, केदार सभा के अध्यक्ष विनोद शुक्ला व महामंत्री कुबेरनाथ पोस्ती का कहना है कि सरकार ने तीर्थपुरोहितों व हक-हकूकधारियों का विश्वास तोड़ा है। अब, आंदोलन को तेज करते हुए शीतकाल में केदारघाटी में धरना-प्रदर्शन किया जाएगा।देवस्थानम एक्ट के विरोध में सोमवार को गंगोत्री बंद

यह भी पढ़ें👉  Big breaking:-संभलकर रहे बढ़ रहा कोरोना , अब देहरादून में एक बटालियन में सेना के कई जवान कोरोना संक्रमित पाए गए , 3 अस्पताल में भर्ती

 

 

देवस्थानम बोर्ड भंग नहीं होने से गंगोत्री धाम के तीर्थ पुरोहितों में रोष है। उन्होंने सरकार के आश्वासन के बाद भी बोर्ड व एक्ट वापस नहीं होने पर सोमवार को गंगोत्री बंद रखने का निर्णय लिया है। रविवार को श्री पांच गंगोत्री मंदिर समिति से जुड़े तीर्थ पुरोहितों व हक हकूकधारियों ने बैठक कर देवस्थानम बोर्ड व एक्ट के मुद्दे पर चर्चा की।

 

 

बैठक में वक्ताओं ने कहा कि 11 सितंबर को सीएम के साथ हुई वार्ता में 30 अक्तूबर तक देवस्थानम बोर्ड भंग कर करने का आश्वासन दिया था लेकिन अब तक सरकार ने इस संबंध में कोई निर्णय नहीं लिया है।

यह भी पढ़ें👉  Big breaking:-CBSE term 1 - 10वी बोर्ड परीक्षा 30 दिसबर से होगी आयोजित , 12 वी के भी होने जा रहे प्रमुख पेपर , इन बातों का रखें ध्यान

 

 

बैठक में सभी ने सोमवार को गंगोत्री धाम में व्यापारिक प्रतिष्ठान बंद करने, भागीरथी घाट पर होने वाले पूजा पाठ कार्य बंद रखने एवं 10 बजे रैली निकालने का निर्णय लिया। बैठक में सह सचिव राजेश सेमवाल, इंद्रदेव सेमवाल, संजय सेमवाल, गणेश सेमवाल, कमलनयन सेमवाल, आशाराम सेमवाल, अंबरीश सेमवाल, माधव सेमवाल, बद्रीप्रसाद सेमवाल आदि शामिल थे

Ad
Ad

लेटेस्ट न्यूज़ अपडेट पाने के लिए -

👉 न्यूज़ हाइट के समाचार ग्रुप (WhatsApp) से जुड़ें

👉 न्यूज़ हाइट से टेलीग्राम (Telegram) पर जुड़ें

👉 न्यूज़ हाइट के फेसबुक पेज़ को लाइक करें


अपने क्षेत्र की ख़बरें पाने के लिए हमारी इन वैबसाइट्स से भी जुड़ें -

👉 www.thetruefact.com

👉 www.thekhabarnamaindia.com

👉 www.gairsainlive.com

Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

To Top