Delhi news

Big breaking:-एम्स प्रमुख डॉ. रणदीप गुलेरिया ने कहा है कि देश को किसी भी हालात का सामना करने के लिए तैयार रहना चाहिए।

ओमिक्रॉन के नए वेरिएंट ने दुनिया भर में चिंता बढ़ा दी है। ब्रिटेन में हर दिन मिल रहे करीब एक लाख कोरोना केस में दस हजार ओमिक्रॉन के पाए गए। ऐसे में अब भारत की चिंता बढ़ना भी लाजमी है। एम्स प्रमुख डॉ. रणदीप गुलेरिया ने कहा है कि देश को किसी भी हालात का सामना करने के लिए तैयार रहना चाहिए। उन्होंने देश में ओमिक्रॉन वेरिएंट समेत कोरोना वायरस के बढ़ते मामलों के बीच ये चेतावनी दी है। भारत में अब तक ओमिक्रॉन वैरिएंट के 150 से ज्यादा केस दर्ज हो चुके हैं। कोरोना का यह नया वैरिएंट बेहद संक्रामक माना जाता है।

 

यह भी पढ़ें👉  Big breaking:-NEWS HEIGHT की खबर पर मोहर , बीजेपी ने किया हरक सिंह रावत को बर्खास्त मंत्री मंडल से भी हुए कैबिनेट मंत्री हरक सिंह रावत बर्खास्त

 

 

दुनिया भर में इस वैरिएंट के हजारों की संख्या में मामले सामने आ रहे हैं।
ब्रिटेन में तो रविवार को ओमिक्रॉन वैरिएंट के दस हजार के करीब केस सामने आए हैं। ब्रिटेन में बढ़ते मामलों का ही हवाला देते हुए गुलेरिया ने कहा कि हमें भी किसी भी स्थिति से निपटने के लिए तैयार रहना होगा। ब्रिटेन में हर रोज करीब एक लाख केस सामने आ रहे हैं। डॉ. गुलेरिया ने कहा कि हमें ओमिक्रॉन पर अभी डेटा की जरूरत है।

 

यह भी पढ़ें👉  Big breaking:-सहसपुर विधानसभा में बीजेपी के वर्तमान विधायक को लेकर जनता दे रही रेड अलर्ट , लेकिन बीजेपी संगठन का वो कौन है जो पार्टी की आखों में धूल झोंक रहा , कही दाल में कुछ काला तो नहीं

 

 

उन्होंने कहा कि अमेरिका, ब्रिटेन और अन्य देशों में कोरोना के बढ़ते ग्राफ पर हमें सतर्क नजर रखनी होगी। यह समझदारी भरा कदम होगा कि हम पहले ही ऐसी किसी भी स्थिति का सामना करने के लिए खुद को तैयार रखें।

यह भी पढ़ें👉  Big breaking:-शिक्षा विभाग से आज की बड़ी खबर , बोर्ड परीक्षाओं को लेकर आया बड़ा Update

 

 

 

डब्ल्यूएचओ का कहना है कि ओमिक्रॉन का दुनिया में सबसे पहले पता साउथ अफ्रीका में चला था। 9 नवंबर को पहली बार इस वैरिएंट (B.1.1.529 ) का नमूना लिया गया था, जिसकी पुष्टि 25 नवंबर को हुई थी। विश्व स्वास्थ्य संगठन ने 26 नवंबर को कोविड-19 के इस वैरिएंट को (B.1.1.529) नाम दिया गया था। फिर ओमिक्रॉन को वैरिएंट ऑफ कंसर्न दिया गया था।

लेटेस्ट न्यूज़ अपडेट पाने के लिए -

👉 न्यूज़ हाइट के समाचार ग्रुप (WhatsApp) से जुड़ें

👉 न्यूज़ हाइट से टेलीग्राम (Telegram) पर जुड़ें

👉 न्यूज़ हाइट के फेसबुक पेज़ को लाइक करें


अपने क्षेत्र की ख़बरें पाने के लिए हमारी इन वैबसाइट्स से भी जुड़ें -

👉 www.thetruefact.com

👉 www.thekhabarnamaindia.com

👉 www.gairsainlive.com

Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

To Top