World news

Big breaking :-90 वर्षों बाद जू में पैदा हुआ ये दुर्लभ जानवर, क्या आप जानते हो इसका नाम?

90 वर्षों बाद जू में पैदा हुआ ये दुर्लभ जानवर, क्या आप जानते हो इसका नाम?

यूके के एक चिड़ियाघर में एक दुर्लभ जानवर पैदा हुआ है। बता दें कि यह जानवर 90 वर्षों बाद इस जू में पैदा हुआ है। जिसको लेकर जू का मैनेजमेंट काफी खुश है। वो इसका बच्चों की तरह से ध्यान रख रहे हैं। यहां तक कि जब पब्लिक ने इस जानवर को देखा तो वो भी काफी खुश हुए, उन्होंने दुनिया में इस रेयर जानवर का स्वागत किया।

 

 

 

 

बचपन में वो वाला टाइम याद है, जब हमें टीचर जानवरों के नाम याद करवाया करते थे। साथ में तस्वीरें होती थी और सामने नाम लिखने होते थे। दुनिया में शेर, चीता, बाघ के अलावा भी बहुत से ऐसे जानवर है जिनके नाम याद नहीं रहते, या हो सकता है कि हमें उनके नाम पता ही ना हों। इस बात की भी संभावना है कि हम उनके बारे में कुछ जानते ही ना हों। नाम तक भी नहीं। इन दिनों यूके के एक जानवर (Uk Zoo) की बड़ी चर्चा हो रही है। ऐसा इसलिए क्योंकि यह जानवर 90 वर्षों के बाद जू में पैदा हुआ है।

यह भी पढ़ें👉  Big breaking :-भारी बारिश और बर्फबारी की वजह से सोनप्रयाग में रोकी गई केदारनाथ यात्रा

 

 

 

इस जानवर का नाम को आर्डवार्क (aardvark)कहा जाता है। इसका जन्म 4 जनवरी, 2022 को हुआ। जन्म के समय हालांकि इसके लिंग के बारे में जानकारी नहीं थी। बाद में चेस्टर जू (chester zoo) ने ट्विटर पर घोषणा की और बताया कि यह बच्ची है। उन्होंने बेबी एर्डवार्क की एक फोटो भी शेयर की।
चेस्टर चिड़ियाघर के टीम मैनेजर डेव व्हाइट बताते हैं कि जू में पैदा होने वाला यह पहला आर्डवार्क है, इसी कारण यह उनके लिए महत्वपूर्ण हो जाता है। बता दें कि वो देखने में हैरी पॉटर के कैरेक्टर डॉबी के साथ मिलता जुलता दिखता है। इसलिए उसका उपनाम डॉबी ही रखा गया है। फिलहाल उसे जूकीपर पाल रहा है। बता दें कि ऐसा इसलिए किया जा रहा है क्योंकि वो नाजुक है और उसके पेरेंट्स कई बार ऐसी हरकत कर सकते हैं जिससे उसे नुकसान हो, जू प्रबंधन किसी तरह का रिस्क लेने को तैयार नहीं है।

यह भी पढ़ें👉  Big breaking :-थॉमस कम की ऐतिहासिक जीत पर मुख्यमंत्री ने किया लक्ष्य सेन को सम्मानित।* *15 लाख की सम्मान राशि का चेक किया भेंट

 

 

 

 

बता दें कि इस जानवर का नाम आर्डवार्क है। यह अफ्रीका मूल का एक जानवर है। अफ्रीकी भाषा में इसका मतलब ‘अर्थ पिग’ होता है। यह जानवर नाक्टर्नल एनिमल चींटियों और दीमकों को खोज निकालने के लिए अपनी लंबी नाक का इस्तेमाल करता है। सूंघने की शक्ति के इस्तेमाल से यह अपने शिकार को पकड़ता है। इनकी जीभ 25 सेमी तक लंबी होती है।

यह भी पढ़ें👉  Big breaking :-जयपुर में NMOPS की दो दिवसीय राष्ट्रीय बैठक संपन्न: हुए महत्वपूर्ण निर्णय, नवंबर/दिसंबर 2022 में होगी दक्षिण भारत में विशाल रैली व 2023 में होगी दिल्ली में महारैली.

 

 

 

जब लोगों ने उसे देखा तो उन्हें बड़ी ही खुशी हुई। उन्होंने बताया कि किसी तरह से उन्हें इसकी खूबसूरती से प्यार हो गया। यहां तक कि कई लोगों ने तो कमेंट कर उसकी सुंदरता की सराहना की। बता दें कि दुनियाभर के चिड़ियाघरों में केवल 109 आर्डवार्क हैं।

लेटेस्ट न्यूज़ अपडेट पाने के लिए -

👉 न्यूज़ हाइट के समाचार ग्रुप (WhatsApp) से जुड़ें

👉 न्यूज़ हाइट से टेलीग्राम (Telegram) पर जुड़ें

👉 न्यूज़ हाइट के फेसबुक पेज़ को लाइक करें

👉 गूगल न्यूज़ ऐप पर फॉलो करें


अपने क्षेत्र की ख़बरें पाने के लिए हमारी इन वैबसाइट्स से भी जुड़ें -

👉 www.thetruefact.com

👉 www.thekhabarnamaindia.com

👉 www.gairsainlive.com

Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.

To Top