उत्तराखंड

Big breaking :- 4 दिन हो गए अभी तक धामी सरकार के मंत्री हैं बे विभाग, धामी जी कितना करवाओगे इंतजार

उत्तराखंड में धामी सरकार के मंत्रिमंडल को विभागों के बंटवारे ​के लिए ​लंबा इंतजार करना पड़ रहा है। पहले दिन कैबिनेट की व्यस्तता और दूसरे दिन उत्तर प्रदेश में योगी आदित्यनाथ के शपथ ग्रहण समारोह में शामिल होने के कारण मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने अब तक नए मंत्रियों को विभागों का बंटवारा नहीं किया है। कयास लगाए जा रहे हैं कि हैवीवेट विभागों के लिए ज्यादा मारामारी है। हालांकि चर्चा है कि ज्यादातर मंत्रियों को पुराने विभाग रिपीट किए जा सकते हैं

 

 

 

 

सुबोध उनियाल का कद बढ़ाए जाने की चर्चा
प्रदेश में 23 मार्च को धामी सरकार के मंत्रिमंडल का गठन हो चुका है। लेकिन 4 दिन बाद भी मंत्रियों को विभाग नहीं मिल पाए हैं। इस बार सतपाल महाराज, सुबोध उनियाल, धन सिंह रावत, गणेश जोशी, रेखा आर्य को फिर से मंत्रिमंडल में जग​ह मिली है। पुराने मंत्रियों में सुबोध उनियाल का कद बढ़ाए जाने की चर्चा है। सतपाल महाराज, धन सिंह रावत, गणेश जोशी और रेखा आर्य को अधिकतर पुराने विभाग सौंपने की चर्चा है। लेकिन अंदरखाने हैवीवेट विभागों में फेरबदल होने को लेकर भी कयासबाजी शुरू हो गई है।

 

यह भी पढ़ें👉  Big breaking :-ट्रेनों में सीट के लिए मारामारी, वेटिंग लिस्ट का आंकड़ा भी 200 के पार, यात्रा से पहले जान लें हाल

 

 

सतपाल महाराज के पास सिंचाई, पीडब्ल्यूडी जैसे भारीभरकम विभाग रह चुके हैं। सुबोध उनियाल शासकीय प्रवक्ता के साथ ही ​कृषि ​मंत्री रहे हैं। धन सिंह के पास पहले कार्यकाल में चिकित्सा और उच्च शिक्षा विभाग रहा है। गणेश जोशी सैनिक कल्याण और उद्योग मंत्री का जिम्मा संभाल चुके हैंं। रेखा आर्य महिला एवं बाल विकास की जिम्मेदारी संभाल चुके हैंं। इस बार चंदनराम दास, प्रेमचंद्र अग्रवाल और सौरभ बहुगुणा नए चेहरे हैं।

यह भी पढ़ें👉  Big breaking :-उत्तराखंड-(भर्ती-भर्ती-भर्ती) अल्मोड़ा अर्बन कोऑपरेटिव बैंक में आई भर्ती, 12 जून लास्ट डेट

 

 

 

नए मंत्रियों के मंत्रालय को लेकर माथापच्ची
सबसे ज्यादा माथापच्ची नए मंत्रियों के मंत्रालय को लेकर ही हो रही है। प्रेमचंद अग्रवाल को आबकारी और संसदीय कार्य मंत्री का जिम्मा सौंपा जा सकता है। प्रेमचंद को स्पीकर के साथ ही संसदीय जानकारी होने के चलते अहम जिम्मा सौंपा जा सकता है। इसके साथ ही सौरभ बहुगुणा को समाज कल्याण और परिवहन की जिम्मेदारी मिलने की संभावना जताई जा रही है।

यह भी पढ़ें👉  Big breaking :-सपा से राज्यसभा जाएंगे कपिल सिब्बल, छोड़ रहे कांग्रेस

 

लेकिन मंत्रियों के इंतजार लंबे हो सकते हैं। इसके साथ ही 3 मंत्रियों की सीट खाली होने से विभागों का कैसा बंटवारा होगा, इसको लेकर भी मुख्यमंत्री को होमवर्क की आवश्यकता होगी। सबसे ज्यादा जिन विभागों पर नजर रहेगी, उनमें शिक्षा, चिकित्सा, पीडब्ल्यूडी, आबकारी, शहरी विकास, पेयजल,परिवहन जैसे अहम विभाग हैं।

लेटेस्ट न्यूज़ अपडेट पाने के लिए -

👉 न्यूज़ हाइट के समाचार ग्रुप (WhatsApp) से जुड़ें

👉 न्यूज़ हाइट से टेलीग्राम (Telegram) पर जुड़ें

👉 न्यूज़ हाइट के फेसबुक पेज़ को लाइक करें

👉 गूगल न्यूज़ ऐप पर फॉलो करें


अपने क्षेत्र की ख़बरें पाने के लिए हमारी इन वैबसाइट्स से भी जुड़ें -

👉 www.thetruefact.com

👉 www.thekhabarnamaindia.com

👉 www.gairsainlive.com

Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.

To Top