UTTRAKHAND NEWS

Big breaking :-कक्षा-1 से 8 तक छात्र-छात्राओं को निःशुल्क जूता एवं बैग देने को लेकर नया आदेश जारी

कक्षा-1 से 8 तक अध्ययनरत् समस्त छात्र-छात्राओं को निःशुल्क जूता एवं बैग हेतु धनराशि उपलब्ध कराये जाने के सम्बन्ध में नए आदेश जारी

उपर्युक्त विषयक शासनादेश सं०-933 / XXIV-A-2/ 2021-27 / 2021 दिनांक 7 जनवरी, 2022 एवं शासनादेश सं0-30 / XXIV-A-2 / 2021-27 / 2021 दिनांक 7 फरवरी, 2022 द्वारा वित्तीय वर्ष 2021-22 में राज्य के समस्त राजकीय एवं अशासकीय सहायता प्राप्त विद्यालयों में कक्षा 01 से 08 तक अध्ययनरत छात्र-छात्राओं को निःशुल्क जूता एवं बैग उपलब्ध कराये जाने हेतु निदेशालय के पत्र संख्या अर्थ-2 / 16001-07 / 5क (02)/05/2021-22 / दिनांक 15.03.2022 द्वारा जनपदवार धनराशि आवंटित की गयी है। जिसका भुगतान छात्र-छात्राओं को डी०बी०टी० (Direct Benefit Transfer) के माध्यम से किया जाना है।

T

उक्त के क्रम में जनपदों द्वारा अवगत कराया गया है कि कतिपय छात्र-छात्राओं के पास आधार कार्ड न होने के कारण उनके खाते अद्यतन नही खोले गये हैं ऐसे छात्र-छात्राओं को डी०बी०टी० (Direct Benefit Transfer) के माध्यम से भुगतान किये जाने के सम्बन्ध में पृच्छा की जा रही है।

यह भी पढ़ें👉  Big breaking :- उत्तराखंड में 2 आई एफ एस अधिकारियों को क्यों दिया गया नोटिस जानिए कौन हैं ये अधिकारी

अतः उक्त के क्रम में निर्देशित किया जाता है कि वित्तीय वर्ष 2021-22 समाप्ति की ओर है ऐसी स्थिति में केवल जिन छात्र-छात्राओं के अद्यतन बैंक खाते नही खोले गये हैं उन छात्र-छात्राओं को निःशुल्क जूता एवं बैग उपलब्ध कराये जाने हेतु उनके अभिभावकों के खातों के माध्यम से उन्हें धनराशि का भुगतान मात्र वित्तीय वर्ष 2021-22 के लिए अनुमति प्रदान की जाती है।

यह भी पढ़ें👉  Big breaking :-बीजेपी विधायक किशोर के भाई सचिन की पत्नी कोच्चि मे अरेस्ट

 

लेटेस्ट न्यूज़ अपडेट पाने के लिए -

👉 न्यूज़ हाइट के समाचार ग्रुप (WhatsApp) से जुड़ें

👉 न्यूज़ हाइट से टेलीग्राम (Telegram) पर जुड़ें

👉 न्यूज़ हाइट के फेसबुक पेज़ को लाइक करें

👉 गूगल न्यूज़ ऐप पर फॉलो करें


अपने क्षेत्र की ख़बरें पाने के लिए हमारी इन वैबसाइट्स से भी जुड़ें -

👉 www.thetruefact.com

👉 www.thekhabarnamaindia.com

👉 www.gairsainlive.com

Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.

To Top